Breaking News

Friday, 25 November 2022

देहरादून: प्रेमी के साथ मिलकर तलाकशुदा पत्नी ने की पति की हत्या

 देहरादून:  प्रेमी के साथ मिलकर तलाकशुदा पत्नी ने की  पति की हत्या




देहरादून: देहरादून के सहसपुर में बुधवार को संदिग्ध अवस्था में एक मीट कारोबारी की हत्या का खुलासा पुलिस द्वारा किया है। हत्या किसी और ने नहीं बल्कि मीट कारोबारी की तलाकशुदा पत्नी ने ही की थी। जानकारी के मुताबिक सहसपुर में गुमान सिंह नाम के एक मीट कारोबारी का शव मिला था। मीट कारोबारी के परिजनों ने गुमान सिंह की हत्या की आशंका जताई। इसके बाद कारोबारी की बहन ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। इसी के आधार पर पुलिस ने तफ्तीश शुरु की।


पुलिस ने अपनी तफ्तीश में 50 के करीब सीसीटीवी कैमरों की फुटेज जांची। इसमें हत्या के समय के आसपास एक महिला दिखी। ये महिला एक अन्य व्यक्ति के साथ बाइक पर आती दिखी।पुलिस ने ये फुटेज कारोबारी की बहन को दिखाई। इसके बाद पता चला कि फुटेज में दिख रही महिला कारोबारी की तलाकशुदा पत्नी आशा यादव है। पुलिस ने आशा की कॉल डिटेल्स निकाली तो रणजीत सिंह नाम के एक व्यक्ति के साथ उसकी लगातार बात होने का पता चला। हत्या के दिन के आसपास भी इन दोनों की लगातार बात हो रही थी। पुलिस ने शक के आधार पर आशा को उठा लिया। पुलिसिया पूछताछ में आशा ने पूरा राज उगल दिया।


आशा की माने तो उसका और गुमान का एक बेटा है। तलाक के बाद बेटा अपने पिता गुमान सिंह के पास ही रुक गया। पिछले कुछ दिनों से गुमान लगातार अपनी संपत्ति बेच रहा था। ऐसे में आशा को लगा कि कहीं उसके बेटे के लिए कुछ न बचे तो उसका भविष्य अंधकारमय हो जाएगा। आशा ने पुलिस को बताया कि हाल ही में गुमान ने बालूवाला में अपना एक मकान 12 लाख रुपए में बेचा था और उससे मिले अधिकतर पैसे उसने खर्च कर दिए थे। ऐसे में आशा परेशान थी।


उधर तलाक के बाद आशा सेलाकुईं इलाके में लोगों के घरों में साफ सफाई का काम करने लगी थी। इसी बीच उसकी नजदीकी टिहरी के रहने वाले रणजीत सिंह से हो गई। आशा ने गुमान सिंह के बारे में रणजीत को बताया। रणजीत ने आशा को गुमान सिंह की हत्या का प्लान समझा दिया। इसी प्लान पर काम करते हुए आशा ने गुमान सिंह को फोन किया और उसे मिलने के लिए सहसपुर में बालूवाला वाले मकान में बुलाया। आशा अपने साथ शराब की बोतलें भी ले गई थी। आशा ने शराब में नशे की गोलियां मिलाईं। शराब पीने के बाद जब गुमान सिंह नशे में सो गया तो रणजीत और आशा ने गुमान सिंह का गला घोंट कर उसे मार डाला।

No comments: