Breaking News

Friday, 14 October 2022

साठ दिन से लापता मनोज का नही चला पता, पुलिस कर रही प्रेम -प्रसंग का संदेह व्यक्त कर रही


साठ दिन से लापता मनोज का नही चला पता, पुलिस कर रही प्रेम -प्रसंग का संदेह व्यक्त कर रही 


 राजेन्द्र असवाल पोखरी: 

तहसील-पोखरी  के ग्राम इज्जर निवासी लापता मनोज पंवार का सैतालीश दिन  बीत जाने के बाद भी नही चला पता। स्वजनो की मनोज की इंतजार मे पथरा गयी ऑखे।कर्णप्रयाग की पुलिस के हाथ नही लगा आज तक कोई सुराग।


ग्राम-इज्जर  के विक्रम सिंह पंवार ने थाना- कर्णप्रयाग मे अपने पुत्र मनोज पंवार की 20अगस्त 2022 को गुमशुदगी दर्ज करायी थी।उन्होने अपनी तहरीर मे लिखा था  कि उनका पुत्र मनोज पंवार बीते 20 अगस्त 2022 को अपने घर से चमोली-क्षेत्रापाल के लिए घर से चला था,और 11बजे कर्णप्रयाग पहुंचने पर मनोज ने उनको फोन से  जानकारी दी थी, उसके बाद से उसका कोई पता नही है। और नही फोन से कोई संपर्क हो रहा है।कर्णप्रयाग थाने के एसएचओ राकेश गुसांई से जानकारी करने पर बताया गया कि पुलिस मनोज की लोकेशन के अनुसार मनोज के मामा योगेन्द्र को साथ लेकर देहरादून, मेरठ,दिल्ली,गाजियाबाद, गुडगांव व मानेश्वर तक चले गयी,लेकिन कोई सुराग नही मिला, 


उन्होंने कहा कि मनोज पहले मानेश्वर किसी फैक्ट्री मे काम करता था,और वही गुडगांव की एक युवती भी वही काम करती थी,और यहां से बीते 20 अगस्त को मनोज लापता है, और गुडगांव की युवती बीते 28 अगस्त से लापता है। उन्होने कहा कि इन दोनो को प्रेम-प्रसंग का संदेह व्यक्त किया है,और कही अन्यत्र चले जाने की बात कर रहे है। वही लापता मनोज पंवार के पिता विक्रम सिंह पंवार ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा है कि वह मनगढंत कहानी गढ रहे है।


उन्होने कहा कि मनोज का जीवित मृतक का पता तो लगना ही चाहिए। कहा कि कहीं अंकिता भंडारी,केदार सिंह भंडारी की तरह मनोज पंवार का मामला भी न बन जाए। पंवार ने शासन-प्रशासन से लापता मनोज पंवार का जीवित-मृतक का पता लगाने की मांग की गयी है।

No comments: