Char dham yatra
 

Breaking News


Sunday, 1 May 2022

रुद्रपुर कॉलेज की छत पर चढ़े दीनदयाल कौशल केंद्र के छात्र, हंगामा

 रुद्रपुर कॉलेज की छत पर चढ़े दीनदयाल कौशल केंद्र के छात्र, हंगामा


केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़

रुद्रपुर। सरदार भगत सिंह डिग्री कॉलेज स्थित दीनदयाल कौशल केंद्र में करीब डेढ़ साल से बैंकिंग एंड फाइनेंस की परीक्षाएं न करवाने से आक्रोशित छात्र-छात्राएं शनिवार को धरने पर बैठ गए। चार छात्रों ने कॉलेज की छत पर चढ़कर कॉलेज प्रशासन और कुमाऊं विश्वविद्यालय के खिलाफ नारेबाजी की। प्रोफेसरों और पुलिस कर्मियों की अपील के बावजूद छात्र छत से नीचे नहीं उतरे। करीब साढ़े तीन घंटे बाद कुमाऊं विश्वविद्यालय की ओर से 12 मई से परीक्षाएं करवाने का आश्वासन मिलने के बाद छात्र छत से नीचे उतरे।

     रुद्रपुर कॉलेज परिसर में सुबह करीब नौ बजे बैंकिंग एंड फाइनेंस विषय की परीक्षा करवाने की मांग को लेकर छात्र-छात्राएं धरने पर बैठ गए। उन्होंने कॉलेज प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कहा कि उन्होंने वर्ष 2018 में प्रवेश लिया था। उन्हें वर्ष 2020 में स्नातक की डिग्री मिल जानी चाहिए थी लेकिन कॉलेज प्रशासन की लापरवाही के कारण उनकी फाइनल की परीक्षा नहीं हो पा रही है, जबकि परीक्षा की फीस और परीक्षा फार्म जमा कर चुके हैं। इसी बीच धरने पर बैठे छात्र दिपांशु हालदार, शुभम गौतम, तुषार और एबीवीपी की प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य राहुल गुप्ता कॉलेज की छत पर चढ़ गए। इससे कॉलेज प्रशासन में अफरातफरी मच गई।

        सूचना पर पुलिस फोर्स भी मौके पर पहुंच गई। प्रोफेसरों डॉ. प्रमिला सक्सेना, डॉ. विनोद कुमार, डॉ. हरनाम सिंह और पुलिस कर्मियों ने छात्रों से नीचे उतरने की अपील की, लेकिन उन्होंने परीक्षा तिथि की घोषणा होने के बाद ही छत से नीचे उतरने की बात कही। राहुल गुप्ता ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि शीघ्र परीक्षा की तिथि घोषित नहीं की गई तो सात मई को कॉलेज में तालाबंदी की जाएगी।

करीब साढ़े तीन घंटे बाद भी छात्रों के छत से नीचे न उतरने पर प्रभारी प्राचार्य डॉ. एके पालीवाल ने कुमाऊं विश्वविद्यालय के अधिकारियों से फोन पर वार्ता की। कुमाऊं विश्वविद्यालय की ओर से 12 से 23 मई तक परीक्षाएं आयोजित करवाने के आश्वासन के बाद छात्र-छात्राओं ने अपना धरना समाप्त कर दिया। साथ ही कॉलेज की छत में चढ़े छात्र भी नीचे उतर आए। वहां पर सूरज पासवान, दीक्षा, नरेंद्र, कमल, सुनीता, मनु, पारस, देवेंद्र कुमार, मनजीत, आशीष आदि थे।

No comments: