Char dham yatra
 

Breaking News


Tuesday, 10 May 2022

नारायणबगड़ झिझौंणी प्राथमिक विद्यालय में शिक्षकों की कमी को लेकर विद्यालय प्रशासन समिति ने उप शिक्षाधिकारी को सौंपा ज्ञापन।

 नारायणबगड़ झिझौंणी प्राथमिक विद्यालय में शिक्षकों की कमी को लेकर विद्यालय प्रशासन समिति ने उप शिक्षाधिकारी को सौंपा ज्ञापन।


केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़

नवीन चंदोला

नारायणबगड़ विकासखंड के राजकीय प्राथमिक विद्यालय झिझौंणी के विद्यालय प्रशासन समिति के अध्यक्ष ने उप शिक्षा अधिकारी को विद्यालय में शिक्षकों की कमी को लेकर ज्ञापन सौंपा।

  विकासखंड नारायणबगड़ का राजकीय प्राथमिक विद्यालय झिझौंणी मात्र 2 शिक्षकों के भरोसे चल रहा हैं, वर्तमान में रा.प्रा. वि. झिझौंणी में छात्र-छात्राओं की संख्या 90 हैं, और नारायणबगड़ के दूरस्थ और सुदुरवर्ती क्षेत्र होने के कारण कोई शिक्षक यहां नौकरी नहीं करना चाहता हैं, न ही यहां आना चाहता  हैं, एक तरफ यहां बिजली- पानी की समस्या बनी रहती हैं, और यहां से नारायणबगड़ मार्केट लगभग 25-30 किमी हैं,तथा सड़क भी खस्ताहाल हैं जिस कारण बिना शिक्षकों के इस विद्यालय के छात्रों का भविष्य अंधकारमय होने की कगार पर हैं।

 आजकल पहाड़ों में सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर दिन-प्रतिदिन कम होता जा रहा हैं। कुछ प्राथमिक विद्यालय ऐसे हैं जहां 2-3 या 10-12 छात्र संख्या पर 3 से 4 शिक्षक मौजूद हैं लेकिन कुछ दूरस्थ सुदुरवर्ती विद्यालय ऐसे हैं जहां 100-150 छात्र संख्या पर 1 या 2 शिक्षकों के भरोसे पूरा विद्यालय चल रहा हैं।

इसे उत्तराखंड शिक्षा विभाग की लापरवाही कहें या नेताओं की कहे लेकिन शासन-प्रशासन व सरकार की लापरवाही के कारण कई छात्रों का भविष्य गर्त में जा रहा हैं।

No comments: