Char dham yatra
 

Breaking News


Friday, 13 May 2022

बढ़ती तीर्थयात्रियों की मौत से केदारनाथ फिर सुर्खियों में, 8 दिनों में 11 लोगों की मौत,


बढ़ती तीर्थयात्रियों की मौत से  केदारनाथ फिर सुर्खियों में,  8 दिनों में 11 लोगों की मौत, 


-कुलदीप राणा आजाद'/केदारखण्ड एक्सप्रेस

रूद्रप्रयाग।  केदारनाथ धाम में मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा है पिछले 8 दिनों में 11 तीर्थयात्रियों की आकस्मिक मृत्यु हो चुकी है, स्वास्थ्य विभाग की माने तो ज्यादातर तीर्थयात्रियों की अचानक  स्वास्थ्य खराब होने से मौत हुई हैं। लेकिन बढ़ती तीर्थयात्रियों की मौत से केदारनाथ सुर्खियों में आ गया है। मध्य हिमालय में बसे श्री केदारनाथ धाम में भारी ठंड होती है। दुर्गम पैदल यात्रा के साथ साथ हिमालय में बसे इस धाम में मौसम की दुश्वारियां भी एक बड़ी चुनौती रहती है ऐसे में तीर्थ यात्रियों को क्या कुछ इस यात्रा में ले जाना और किन बातों का ध्यान रखना है इसको लेकर सरकार और प्रशासन को जरूरी कदम उठाए जाने चाहिए थे लेकिन जिस तरह से ठंड के कारण अचानक तबीयत खराब होने से तीर्थयात्रियों की मौत हो रही है उससे ऐसा लगता है सरकार और प्रशासन केदारनाथ यात्रा के लिए लोगों को आमंत्रित तो कर रहा है लेकिन इस यात्रा पर किन बातों का ध्यान रखना चाहिए उसका प्रचार प्रसार अभी ना के बराबर हो रहा है। शुरुआती ही 1 सप्ताह में मौतों का आंकड़ा तेजी से बढ़ा है तो अभी 6 माह की यात्रा बाकी है ऐसे में यह आंकड़ा किस कदर और बढ़ेगा कुछ कहा नहीं जा सकता है। 


आपको बताते चले 6 मई को  बाबा केदारनाथ के कपाट खुले थे और पहले ही दिन ग्राम पोस्ट गौरीकुंड भिंड पाली मध्य प्रदेश के रहने वाले दिलासा राम पुत्र जयनारायण उम्र 61 वर्ष की छोटी लिंचोली के पास अचानक स्वास्थ्य खराब होने से मौत हो गई। जबकि अगले दिन 7 मई को हमसा देवी पत्नी रतीलाल उम्र 60 वर्ष सूरत गुजरात निवासी की सोनप्रयाग में अचानक स्वास्थ्य खराब होने से मृत्यु हो गई इसी दिन परवीन सैनी पुत्र रमेश कुमार उम्र 46 वर्ष निवासी वाटिका सिटी सोहना रोड सेक्टर 49 गुड़गांव हरियाणा की भी गौरीकुंड बस अड्डे के निकट मौत हो गई। 8 मई को जीत सिंह पुत्र देवेंद्र सिंह उम्र 40 वर्ष निवासी एन एस एम 268 ए सेक्टर 23 संजय नगर गाजियाबाद उत्तर प्रदेश जंगल चट्टी से 400 मीटर आगे केदारनाथ की तरफ आकस्मिक मृत्यु हो गई। 


बातों के सिलसिले की अभी शुरुआत थी और अगले ही दिन 9 मई को जयंतीलाल राजगोर पुत्र करसनदास राजगोर उम्र 69 वर्ष  निवासी शिव नगर कॉलोनी अप अपोजिट शंकर किराना थाना विट्ठलवाड़ी जिला थाने महाराष्ट्र कि जिला चिकित्सालय रुद्रप्रयाग में अचानक स्वास्थ्य खराब होने के कारण मौत हो गई। वही 10 मई को भूरा पुत्र राजाराम उम्र 70 वर्ष निवासी ब्राह्मण पुरी थाना बड़वा जिला खरगोन मध्य प्रदेश कि अचानक स्वास्थ्य खराब होने से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सोनप्रयाग में मृत्यु हो गई जबकि 10 मई को ही राम चंद्र शर्मा पुत्र विधि चंद्र शर्मा उम्र 57 वर्ष निवासी धौला रोड दूरी जिला शिवहर पंजाब की भी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सोनप्रयाग में मौत हो गई। 11 मई को खण्डरोव पुत्र देवचंद्र बाग उम्र 59 वर्ष  निवासी बडौदा गुजरात कि केदारनाथ धाम स्थित विवेकानंद हॉस्पिटल में अचानक स्वास्थ्य खराब होने से मौत हो गई। 12 मई को मेरा वतन मोदी धानी गधा उम्र 65 वर्ष निवासी बडौदा गुजरात की भी केदारनाथ सुमित विवेकानंद हॉस्पिटल में अचानक स्वास्थ्य खराब होने से मौत हो गई जबकि 12 मई को ही कालका प्रसाद बुंदेलखंड उत्तर प्रदेश की भी केदारनाथ पैदल मार्ग के जंगल चट्टी में  अचानक स्वास्थ्य खराब होने से मृत्यु हो गई। इस तरह पिछले 8 दिनों में 11 लोगों की मौत हो चुकी है।

No comments: