Char dham yatra
 

Breaking News


Saturday, 23 April 2022

व्यापारी नेता की पत्नी पंखे पर मिली लटकी

 व्यापारी नेता की पत्नी पंखे पर मिली लटकी 


केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़

हल्द्वानी। व्यापारी नेता सचिन गुप्ता की पत्नी का शव शनिवार सुबह राजपुरा गली नंबर एक स्थित आवास में पंखे से लटका मिला। मायके वालों ने ससुरालियों पर दहेज में दस लाख नहीं देने पर विवाहिता को मारने का आरोप लगाया है। कहासुनी के दौरान दोनों पक्षों में धक्कामुक्की भी हुई। मृतका के पिता की तहरीर पर पुलिस ने पति सहित छह लोगों पर देहज हत्या का मुकदमा दर्ज किया है।

।  राजपुरा गली नंबर एक निवासी प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल के महानगर उपाध्यक्ष सचिन गुप्ता की पत्नी क्षमा गुप्ता (27) शनिवार को अपने कमरे में संदिग्धावस्था में पंखे से लटकी मिली। सूचना पर कोतवाल हरेंद्र चौधरी मौके पर पहुंचे। पूछताछ में पता चला कि सचिन की शादी 19 फरवरी 2018 को बरेली के देवचरा बल्लिया निवासी राम रतन गुप्ता की पुत्री क्षमा के साथ हुई थी। ढाई साल पहले क्षमा ने जुड़वा बच्चों (बेटा-बेटी) को जन्म दिया था। इधर मौत की सूचना पर अन्य परिजनों के साथ पहुंचे मृतका के पिता और भाई ने ससुरालियों पर दहेज के लिए विवाहिता को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि क्षमा ने फांसी नहीं लगाई जबकि उसे साजिश के तहत मारा गया है। आरोप-प्रत्यारोप के बीच दोनों पक्षों के बीच कहासुनी और धक्कामुक्की हो गई। पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाकर स्थिति को संभाला।

     सीओ भूपेंद्र सिंह धोनी ने मौके का जायजा लिया। क्षमा के पिता ने कोतवाली थाने में तहरीर देते हुए कहा कि ससुराली उससे दस लाख रुपये की मांग कर रहे थे। दहेज नहीं देने पर उनकी बेटी को मारा गया है। तहरीर के आधार पर पुलिस ने पति सचिन गुप्ता, जेठ विपिन, वीरबाला, रामजीमल सहित छह लोगों के खिलाफ धारा 304बी के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया।

जांच के लिए मंगाई जाएगी सीडीआर

हल्द्वानी। सीओ भूपेंद्र सिंह धोनी ने बताया कि क्षमा की मौत के मामले में जांच के दौरान सीडीआर (कॉल डिटेल रिपोर्ट) मंगाई जाएगी। रिपोर्ट से पता चलेगा कि क्षमा ने मौत से पहले किन लोगों को कॉल किया था। पूछताछ के आधार पर पता चलेगा कि उसने मरने से पहले क्या कहा था।

----------

पुलिस की मौजूदगी में पति ने दी मुखाग्नि

पोस्टमार्टम हाउस से शव मिलने के बाद परिजन क्षमा के पार्थिव शरीर को लेकर राजपुरा स्थित श्मशान घाट गए। वहां पुलिस की मौजूदगी में पति सचिन ने चिता को मुखाग्नि दी। कोतवाल हरेंद्र चौधरी का कहना था कि विवाद की आशंका को देखते हुए श्मशान घाट पर पुुलिस को तैनात किया गया था।

No comments: