Breaking News

Wednesday, 6 April 2022

नारायणबगड़ मींग गधेरे के समीप बिना प्रदूषण क्लीयरेंस सर्टिफिकेट के चल रहा हाटमिक्स प्लांट, शासन-प्रशासन तथा जनप्रतिनिधियों की आंखों के सामने ही हो रहा यह काम

 नारायणबगड़ मींग गधेरे के समीप बिना प्रदूषण क्लीयरेंस सर्टिफिकेट के चल रहा हाटमिक्स प्लांट, शासन-प्रशासन तथा जनप्रतिनिधियों की आंखों के सामने ही हो रहा यह काम


केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़

नवीन चंदोला/ थराली

ग्वालदम-कर्णप्रयाग राष्ट्रीय राजमार्ग पर भिड़तोली(काल जाबर) तोक में सड़क के किनारे चल रहा हॉटमिक्स प्लांट के द्वारा जहां एक ओर जमकर वातावरण में प्रदूषण फैला रहा है। वही बिना पर्यावरणीय स्वीकृति के ही पिछले कई दिनों से केवल आवेदन के आधार पर ही धड़ल्ले से संचालित हो रहा हैं। जिससे शासन प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवालियें निशान उठ रहे हैं।

राष्ट्रीय राजमार्ग पर ग्वालदम-कर्णप्रयाग राष्ट्रीय राजमार्ग के सुधारीकरण, चौड़ीकरण एवं इस पर हाटमिक्स किए जाने के लिए सरकार के द्वारा पिछले वर्षों मींग गदेरे के भिड़तोली (काल जाबर)तोक में हॉटमिक्स प्लांट स्थापित करने की स्वीकृति दी थी। परंतु इस प्लांट के स्थापना से आज तक भी तमाम तरह के प्रश्न चिन्ह लगते आ रहे हैं। मशलन इसके संचालन में नियमों को ताक पर रखकर चलाने से लेकर रात.रात भर प्लांट को चला कर अन्य सड़कों में माल भेजने सहित अन्य अनियमितताएं रही हैं।


बुधवार को जब प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड देहरादून के क्षेत्रीय अधिकारी आरके चतुर्वेदी ने हॉट मिक्स प्लांट का निरीक्षण किया। और इस दौरान उन्होंने पाया कि प्लांट में माल तैयार करने के दौरान इसकी चिमनी से जिस तरह से गाड़ा काला धूंवा इसके आसपास के वातावरण में फैल रहा हैं तों वे भी अचंभित हुए बगैर नही रह पायें।इस पर उन्होंने प्लांट संचालकों को लगातार प्लांट की मशीनों का पानी बदलनेए चिमनी की ऊंचाई बढ़ाने सहित कई निर्देश दिए। निरीक्षण में पाया कि हॉट मिक्स प्लांट फिलहाल बिना प्रदूषण क्लीयरेंस सार्टिफिकेट के ही संचालित हो रहा हैं।

 

हालांकि प्लांट संचालक ने बताया कि उनके द्वारा प्रदूषण सर्टिफिकेट के रिन्युअल के लिए आवेदन किया है। क्षेत्रीय अधिकारी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड चतुर्वेदी ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा निरीक्षण के दौरान काफी ज्यादा प्रदूषण हॉट मिक्स प्लांट द्वारा फैलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्लांट संचालक द्वारा उन्हें जानकारी दी गयी है कि संचालक द्वारा प्रदूषण सर्टिफिकेट के रिन्युअल के लिए आवेदन किया गया है उन्होंने कहा कि प्रपत्रों की जांच के बाद ही प्लांट संचालक के विरुद्ध आगे की कार्यवाही की जा सकेगी। उन्होंने कहा कि इस संबंध में निश्चित ही नियमों की अह्वेलना करने पर प्लांट संचालक को नोटिस जारी किया जाएगा। वही प्लांट के आसपास काफी संख्या में पेड़ों के सूख जाने के बाबद उन्होंने कहा कि इस मामले को वन विभाग को देखना चाहिए हालांकि उन्होंने पेड़ों के सूखने पर जरूर अपनी चिंता जाहिर की।

खास बात यह है कि जहां एक ओर वाहनों का प्रदूषण रिन्यूवल न होने पर सीधे चालान काट दिया जाता है वहीं हॉटमिक्स प्लांट से भारी मात्रा में गहरा काला धूंवा फैलाने पर प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड क्या कार्रवाई करता है देखने वाली बात होगी। जानकारी के अनुसार प्लांट की चिमनी से संचालन के दौरान सफेद धूंवा आना चाहिए काला धूंवा आने का मतलब या तों मशीनों में खराबी है अथवा दिए गए नियमों का पालन संचालन के दौरान नही किया जा रहा हैं।

 काल जाबर में स्थापित हॉटमिक्स प्लांट का सबसे अधिक खामियाजा हरमनी मल्ली एवं तल्ली के ग्रामीणों को भुगतना पड़ रहा हैं। बताया जा रहा हैं कि जिस स्थान पर प्लांट स्थापित किया गया हैं ठीक उसी के ऊपर यें दोनों गांव बसें हैं और प्लाट से वातावरण में फैलने वालें धूंवे के कारण उनके स्वास्थ्य पर इसका विपरीत प्रभाव पड़ रहा हैं। इस प्लांट के कारण इन गांवों के वृद्ध लोगों को दमा बिमारी से जूझना पड़ रहा है।

No comments: