Char dham yatra
 

Breaking News


Sunday, 17 April 2022

फेसबुक चलाने वाले सभी यूजर्स रहें सावधान देखिए खास खबर

 फेसबुक चलाने वाले सभी यूजर्स रहें सावधान देखिए खास खबर

केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़

साइबर फॉड के मामले में चमोली पुलिस को मिली एक और बड़ी कामयाबी अलवर राजस्थान से एक साइबर ठग गिरफ्तार।

फेसबुक आई0डी0 हैक कर परिचित का सड़क दुर्घटना में घायल होना बताकर व अस्पताल में इलाज होने के नाम पर रू0 1,00000(एक लाख रूपये) की ठगी करने वाला साइबर ठग को चमोली पुलिस ने किया गिरफ्तार।

दिनांक 04.06.2020 को भगवती प्रसाद सती निवासी-कार्यालय नवनिर्माण समिति निकट कर्णपयाग द्वारा कोतवाली कर्णप्रयाग पर आकर तहरीर दी गई की मेरी फेसबुक आई0डी0 किसी नें दिनांक 03.06.2020 को हैक कर दी व मेरी फ्रेन्डलिस्ट के कई मित्रों को मैसेज कर यह कह कर पैसे की मांग की गयी की मेरी बेटी का एक्सीडेंट हो गया है, वो अस्पताल में है व मुझे पैसे की बहुत आवश्यकता है। कृपया मेरी मदद करें। जिस पर मेरे एक मित्र ने श्री दिनेश चन्द्र सारस्वत द्वारा उक्त व्यक्ति की बातों में आकर उक्त व्यक्ति के द्वारा दिये गये मोबाइल नम्बर 7466881564 जो कि देवेश कुमार के नाम पर है व जिसका खाता संख्या 917466881564 IFSC-PYTM 0123456 है पर गूगल पे एप्प के माध्यम से रू0 1,00000 (एक लाख रुपये) ऑनलाइन भेज दिये। जब मैं कर्णप्रयाग आया तो मुझे इसकी जानकारी हुई की मेरे मित्र के साथ धोखाधड़ी हो गयी है। उक्त शिकायत के आधार पर तत्काल कोतवाली कर्णप्रयाग में मु0अ0सं0 16/20 धारा 419/420/120(B) भा0द0वि0 व 66 (C)/66 (D) आई0टी0 एक्ट अभियोग पंजीकृत किया गया। प्रकरण के शीघ्र अनावरण हेतु पुलिस अधीक्षक चमोली श्रीमती श्वेता चौबे द्वारा तत्काल पुलिस टीम गठित कर अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गये। विवेचना के दौरान प्रकाश में आया की अभियुक्त जाकिर हुसैन पुत्र याशीन खान, नि0-अलीमेग, जिला-पलवल हरियाणा व अभियुक्त साजिद पुत्र दीनू, निवासी-ग्राम-गाडपुर, थाना चौपान, जिला- अनवर राजस्थान उम्र 30 वर्ष द्वारा लोगों की फेसबुक आई0डी0 हैक कर उनके परिचितों का सड़क दुर्घटना में घायल होना बताकर इलाज के नाम पर पैसे भेजने सम्बन्धित मैसेज भेजे जाते थे। भोले-भाले हमारे झांसे में आकर धनराशि हमारे खाते में भेज देते थे। जिससे हम दोनो लोगों आपस में बांट लेते थे। अभियुक्त जाकिर हुसैन पूर्व में गिरफ्तार किया जा चुका है। जबकि अभियुक्त साजिद शातिर प्रवृत्ति का होने के कारण लगातार गिरफ्तारी से बच रहा था। गठित पुलिस टीम के अथक प्रयासों, सर्विलांस सेल द्वारा दी गई लोकेशन के आधार पर अभियुक्त साजिद का राजस्थान में छुपा होना पाया गया। गठित पुलिस टीम को तत्काल अभियुक्त की गिफ्तारी हेतु रवाना किया गया। जिस पर पुलिस टीम द्वारा विभिन्न स्थानों पर दबिश देकर दिनांक 16.04.2022 को अलवर राजस्थान से गिरफ्तार किया गया। जिसे आवश्यक वैधानिक कार्यवाही कर न्यायालय में पेश समक्ष पेश किया जा रहा।

पुलिस अधीक्षक चमोली श्वेता चौबे द्वारा जनता से अपील की है-

◆ फेसबुक, वाट्सअप्प के माध्यम से आपके परिचित होने पर किसी भी प्रकार की धनराशि की मांग की जाती है तो सतर्क हो जायें, किसी भी प्रकार की धनराशि देने से पूर्व भली-भांति जांच अवश्य कर लें। 

◆ कोई भी शक होने पर तत्काल नजदीकी थाने या वर्चुअल पुलिस स्टेशन को सम्पर्क करें व आर्थिक साइबर अपराध होने पर तत्काल साइबर हेल्पलाइन नंबर 1930 पर सम्पर्क करें।

नाम व पता अभियुक्तः- साजिद पुत्र दीनू, निवासी-ग्राम-गाडपुर, थाना चौपान, जिला- अनवर राजस्थान उम्र 30 वर्ष।


मु0अ0सं0-16/20 धारा 419/420/120(B) भा0द0वि0 व 66 (C)/66 (D) आई0टी0 एक्ट।

पुलिस टीमः-

1. उपनिरीक्षक वैभव गुप्ता 

2. का0 रजनीश

No comments: