Breaking News

Sunday, 27 March 2022

डॉ शिवानंद नौटियाल राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कर्णप्रयाग का सात दिवसीय एनएसएस कैंप का हुआ समापन

 डॉ शिवानंद नौटियाल राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कर्णप्रयाग का सात दिवसीय एनएसएस कैंप का हुआ समापन


केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़

चमोली/कर्णप्रयाग

  राष्ट्रीय सेवा योजना के तहत राजकीय स्नाकोत्तर महाविद्यालय कर्णप्रयाग का राष्ट्रीय सेवा योजना की तीनों इकाइयों का सात दिवसीय शिविर मे छात्र वर्ग से अनुसूया रतूडी, छात्रा वर्ग से डोना चुनी गयी सर्वश्रेष्ठ शिवराथी।

डॉ शिवानंद नौटियाल राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कर्णप्रयाग चमोली का सात दिवसीय शिविर के समापन्न समारोह मे मुख्य अतिथि के रूप में कर्णप्रयाग विकासखंड की ब्लॉक प्रमुख चन्द्रेश्वरी रावत, महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डॉ एम एस कण्डारी ,वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित रहे।कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि, महाविद्यालय के प्राचार्य, एंव महाविद्यालय की मुख्य प्रशासनिक अधिकारी मीना रियाल एंव राष्ट्रीय सेवा योजना के वरिष्ठ कार्यक्रम कार्यक्रम अधिकारी द्वारा संयुक्त रूप से द्वीप प्रज्वलित कर किया गया। 

 स्वयंसेवी छात्र एंव छात्राओ ने सरस्वती वन्दना ,एंव स्वागत गीत ,पुष्प गुच्छ भेट कर मुख्य अतिथियों का स्वागत किया गया । स्वयंसेवी छात्र एंव छात्राओ द्वारा सात दिन मे किये गये कार्यो के बारे मे राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी डॉ रमेश चन्द्र भट्ट द्वारा बताया गया।इस दौरान स्वयंसेवी छात्र एंव छात्राओं द्वारा सेमी एंव ग्वाड गॉव मे स्वच्छता अभियान, जनजागरूकता कार्यक्रम, प्लास्टिक उन्मूलन, प्राकृतिक जल स्रोत की सफाई,झाड़ियों की कटाई, अलकनंदा एंव पिण्डर के तटो की सफाई कार्य सम्पन्न किये गये। कार्यक्रम के समापन्न समारोह मे स्वयंसेवी छात्र एंव छात्राओ ने विभिन्न प्रकार की सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुत मंच के माध्यम से मुख्य अतिथि के समक्ष दी। 

मुख्य अतिथि ब्लॉक प्रमुख चंद्रेश्वरी रावत द्वारा स्वयंसेवी छात्र छात्राओ को सम्बोधित करते हुए कहा कि शिविर से प्राप्त अनुभव के आधार पर सभी छात्र एंव छात्राओ समाज के विकास मे अपना योगदान दे।किसी भी कार्य को अनुशासन मे रहकर पूर्ण करे। स्वच्छ भारत अभियान के तहत हमे स्वच्छता पर हमे विशेष ध्यान रखना होगा।नमामि गंगे के गंगा स्वच्छता पखवाड़ा के अन्तर्गत मुख्य अतिथि एंव प्राचार्य नमामि गंगे के नोडल अधिकारी ,राष्ट्रीय सेवा योजना के वरिष्ठ कार्यक्रम अधिकारी द्वारा स्वयंसेवी छात्र छात्राओ को गंगा स्वच्छता की शपथ दिलाई गई। डॉ वी आर अंन्थवाल ने छात्र एंव छात्राओ को सम्बोधित करते हुए कहा की शारीरिक श्रम से ही बौद्धिक विकास होता है।महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डॉ एम एस कण्डारी द्वारा छात्र एंव छात्राओ को सम्बोधित करते हुए कहा कि किसी भी कार्य को करने के हमारा लक्ष्य निर्धारित होना चाहिए तभी हम सफल हो सकते है। शिविर मे प्रतिभाग करने वाले स्वयंसेवी छात्र एंव छात्राओ को मुख्य अतिथि,प्राचार्य, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी ,राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी द्वारा पुरूस्कार प्रदान किये गये।

शारीरिक श्रम के लिए सूरज,सपना,अनुशासन के लिए किरन,एंव राजीव, सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए सपना,प्रियंका, अमिषा, नेहा,स्नेहा,अंजलि, विनिता, देवेशवरी, राहुल धुनियाल,पिकी, सर्वश्रेष्ठ शिवराथी का पुरस्कार छात्र वर्ग से अनुसूया रतूड़ी, छात्रा वर्ग से डोना को दिया गया। 

समापन्न समारोह मे महाविद्यालय से डॉ वी आर अंन्थवाल, डॉ नेतराम, डॉ कीर्तिराम डगवाल, डॉ कविता पाठक, डॉ पूनम, डॉ मदन लाल शर्मा, डॉ रवीन्द्र नेगी,डॉ विजय कुमार, डॉ हिना नौटियाल, डॉ स्वाति सुन्दरियाल, डॉ शालिनी सैनी,डॉ डी एस राणा,डॉ ए एस रावत, डॉ दिशा शर्मा, डॉ इन्द्रेश पाण्डेय, जे एस रावत, शुभम रावत, मनोज देवराडी ,उमेश पुरोहित, सहित राष्ट्रीय सेवा योजना के तीनो ईकाई के समस्त स्वयंसेवी छात्र एंव छात्राये उपस्थित रही।

 कार्यक्रम के अन्त मे वरिष्ठ कार्यक्रम अधिकारी डॉ एस आर सिंह द्वारा मुख्य अतिथि को स्मृति चिन्ह भेट कर सभी का आभार एंव धन्यवाद किया गया।कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी डॉ आर सी भट्ट द्वारा किया गया।कार्यक्रम का समापन्न राष्ट्रीय सेवा योजना के लक्ष्य गीत के साथ किया गया।

No comments: