Char dham yatra
 

Breaking News

Monday, 7 February 2022

केदारनाथ सीट पर कांग्रेस को बड़ा झटका, दो जिला पंचायत और कनिष्ठ प्रमुख ने दिया आप को समर्थन

 केदारनाथ सीट पर कांग्रेस को बड़ा झटका, दो जिला पंचायत और कनिष्ठ प्रमुख ने दिया आप को समर्थन

डैस्क : केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़

रूद्रप्रयाग। जैसे-जैसे मतदान का समय नजदीक आ रहा है वैसे वैसे राजनीतिक पार्टियों के समीकरण भी हिलोरे मार रहे हैं केदारनाथ सीट पर दिन प्रतिदिन मुकाबला दिलचस्प होता जा रहा है जहां इस समय राष्ट्रीय दलों को निर्दलीय प्रत्याशी बड़ी चुनौती दे रही है वहीं तीसरे विकल्प के रूप में आम आदमी पार्टी की  राष्ट्रीय दलों के समीकरण को बिगाड़ रही है। आज कांग्रेस के दो जिला पंचायत सदस्य वह एक कनिष्ठ प्रमुख ने आम आदमी पार्टी को अपना समर्थन दिया है जबकि भाजपा के वरिष्ठ नेता वीर सिंह बुडेरा में भी आम आदमी पार्टी को अपना समर्थन दिया है जिससे दोनों दलों को बड़ा झटका लगा है। 

आपको बताते चलें आज केदारनाथ विधानसभा के जिला पंचायत कालीमठ वार्ड से सदस्य विनोद राणा, कंडारा वार्ड से जिला पंचायत सदस्य सुमन नेगी व  कनिष्ठ प्रमुख  सेलेन्द्र कोठवाल ने आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी सुमन तिवारी को अपना समर्थन दिया है जबकि भाजपा से विधायक उम्मीदवार वीर सिंह बुडेरा नेवी आम आदमी को अपना समर्थन दिया है जिससे जहां आम आदमी पार्टी का कुनबा बढ़ा है वहीं जनप्रतिनिधियों के शामिल होने से बड़े वोट बैंक का समीकरण भी आम आदमी के पक्ष में दिख रहा है। उधर कांग्रेस और भाजपा को कहीं ना कहीं इसका बडा खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। 

भाजपा, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, यूकेडी के अलावा निर्दलीयों के बीच इस वक्त केदारनाथ विधानसभा में लड़ाई चल रही है। लेकिन 2017 के विधानसभा चुनावों में  दूसरे नंबर पर रहे निर्दलीय प्रत्याशी कुलदीप रावत का दबदबा इस वक्त केदारनाथ सीट पर कायम है। हालांकि  निर्दलीय प्रत्याशी कुलदीप रावत की टक्कर भाजपा की प्रत्याशी शैला रानी रावत से हो रही है लेकिन जिस तरह से आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी सुमन तिवारी के पक्ष में तमाम जनप्रतिनिधियों का समर्थन मिल रहा है उससे मुक़ाबला त्रिकोणीय होता दिख रहा है। जबकि इस बार कांग्रेस की स्थिति डामाडोल नजर आआ रही है। 

 मतदान को मात्र अब 1 सप्ताह का समय रह गया है, प्रत्याशियों ने पूरी एड़ी चोटी का जोर लगाया हुआ है ऐसे में देखने वाली बात होगी कि अंतिम समय तक अपनी स्थिति को कौन मजबूती से जनता के बीच बनाए रखता है।

No comments: