Breaking News



Monday, 7 February 2022

विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 को शांतिपूर्ण एवं पारदर्शिता के साथ संपन्न कराने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारीध्जिलाधिकारी मनुज गोयल के निर्देशन में निर्वाचन कार्य हेतु तैनात किए गए


            विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 को शांतिपूर्ण एवं पारदर्शिता के साथ संपन्न कराने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारीध्जिलाधिकारी मनुज गोयल के निर्देशन में निर्वाचन कार्य हेतु तैनात किए गए




  सेक्टर मजिस्ट्रेट, पीठासीन अधिकारियों एवं मतदान अधिकारियों को आज अगस्त्यमुनि के बहुउद्देश्यीय क्रीड़ा हाॅल में मास्टर ट्रैनरों द्वारा विधान सभा रुद्रप्रयाग की 73 पोलिंग पार्टियों के कुल 292 कार्मिकों को दो पालियों में सैद्धांतिक एवं व्यवहारिक प्रशिक्षण दिया गया।
          प्रशिक्षण में निर्वाचन कार्य हेतु तैनात किए गए पीठासीन अधिकारियों, मतदान अधिकारियों व सैक्टर मजिस्ट्रेटों को उन्हें सौंपे गए दायित्वों एवं कर्तव्यों का निर्वहन, निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण मतदान सम्पन्न कराने तथा मतदान की गोपनीयता बनाये रखने सहित निर्वाचन के अन्य कार्यों को त्रुटि रहित कराने का सैद्धान्तिक एवं व्यवहारिक प्रशिक्षण दिया गया। मास्टर ट्रैनर नरेंद्र सिंह बिष्ट ने प्रशिक्षण के दौरान कहा कि मास्टर ट्रैनरों द्वारा निर्वाचन प्रक्रिया को संपादित कराने में जो उन्हें ट्रेनिंग एवं जानकारी दी जा रही है उसे सभी अधिकारी एवं कर्मचारी गंभाीरता पूर्वक समझें और ईवीएम एवं वीवीपैट मशीन की जानकारी अच्छी तरह से प्राप्त कर लें, ताकि गलती की कोई गुंजाइश न रहे। उन्होंने कहा कि पोलिंग पार्टियां उन्हें उपलब्ध कराई जाने वाली निर्वाचन सामग्री को अपने गंतव्य से रवानगी से पूर्व अच्छी तरह से मिलान कर लें ताकि कोई भी सामग्री छूटने न पाए। उन्होंने मतदान दिवस में मतदान कर्मी तटस्थ होकर कार्य करेंगे तथा किसी के बहकावे या किसी भी व्यक्ति का आतिथ्य स्वीकार नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि ईवीएम और वीवीपैट मशीन को लाने और ले जाने में सावधानी बरतें। उन्होंने कहा कि मतदान प्रक्रिया के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का पूरा ध्यान रखा जाए। प्रशिक्षण  के दौरान मास्टर ट्रेनर कपिल पाण्डेय ने उपस्थित कार्मिकों से कहा कि उन्हें उपलब्ध कराई जा रही मतदान सामग्री का भली-भांति चैक कर लें, मतदान किट में 26 तरह के प्रारूप रखे गए हैं उनका सही तरीके से मिलान कर लें कि सभी प्रारूप उन्हें उपलब्ध हो गए हैं या नहीं साथ ही प्रारूप मतदाता रजिस्टर 17क एवं प्रारूप 17ग को भी ठीक तरह तथा पीठासीन की डायरी ग्रीन पेपर सील, स्ट्रिप सील, स्पेशल टैक्स सील के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सभी कर्मचारी अपने कर्तव्यों का सही ढंग से निर्वहन करें क्योंकि 50 प्रतिशत बूथों पर वेबकास्टिंग के माध्यम से निर्वाचन की प्रक्रिया संपादित की जाएगी। इसके साथ ही निर्वाचन की पूरी गतिविधियों पर निगरानी हेतु माइक्रो आॅब्जर्वर तैनात किए गए हैं जो कि पूरी निर्वाचन प्रक्रिया पर निगरानी रखेंगे इसलिए सभी कार्मिक अपने दायित्वों का निर्वहन सतर्कता एवं गंभीरता से करें। नोडल अधिकारी ईवीएम संजीव कुमार, ने ईवीएम मशीनों के ऑन व ऑफ करने व सील करने के साथ ही बी.यू., सी.यू. तथा वीवीपैट को संयोजित करने, खोलने और सील करने की प्रक्रिया के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए हैंड्स ऑन प्रशिक्षण दिया गया। मास्टर ट्रेनर ने प्रशिक्षण के दौरान कार्मिको की शंका का निदान किया। प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर किशन रावत एवं एस.के. शर्मा, सहायक नोडल अधिकारी बी.एल. पुरोहित द्वारा उपस्थित कार्मिकों को निर्वाचन प्रक्रिया एवं ईवीएम मशीनों के संचालन के संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई।
            प्रशिक्षण के दौरान निर्वाचन कार्य हेतु तैनात किए गए कार्मिकों द्वारा पोस्टल बैलेट के माध्यम से अपने मताधिकार का प्रयोग किया जिसमें 07 केदारनाथ विधान सभा क्षेत्र से आज 196 कार्मिकों द्वारा अपना मतदान का प्रयोग किया गया है अब तक कुल 748 कार्मिकों द्वारा पोस्टल बैलेट के माध्यम से अपने मताधिकार का प्रयोग किया गया है। तथा 08 रुद्रप्रयाग विधान सभा क्षेत्र से आज 52 कार्मिकों द्वारा पोस्टल बैलेट के माध्यम से अपने मताधिकार का प्रयोग किया गया है, अब तक कुल 507 कार्मिकों द्वारा पोस्टल बैलेट के माध्यम से अपने मताधिकार का प्रयोग किया गया है। दोनों विधानसभाओं में 1255 कार्मिकों द्वारा पोस्टल बैलेट के माध्यम अपने मताधिकार प्रयोग किया जा चुका है।
            नोडल अधिकारी पोस्टल बैलेट योगेंद्र चैधरी ने कहा कि दोनों विधान सभाओं हेतु 35 पोलिंग पार्टियों द्वारा घर-घर जाकर  80 वर्ष से अधिक उम्र के तथा दिव्यांग मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग कराया गया है। जिसमें 07-केदारनाथ विधान सभा में 19 पोलिंग पार्टियों द्वारा घर-घर पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान कराया गया जिसमें दिव्यांग मतदाता 32 तथा 80 वर्ष से अधिक उम्र के 310 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया गया है तथा 08-रुद्रप्रयाग विधान सभा क्षेत्र से 80 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 315 तथा 33 दिव्यांग मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग किया गया है। दोनों विधान सभाओं में कुल 65 दिव्यांग एवं 80 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 625 कुल 690 मतदाताओं के द्वारा पोस्टल बैलेट के माध्यम से अपने मताधिकार का प्रयोग किया गया है।

No comments: