Breaking News



Sunday, 30 January 2022

शैक्षिक योग्यता को लेकर सोशल मीडिया पर कुलदीप सिंह रावत हो रहे ट्रोल



शैक्षिक योग्यता को लेकर सोशल मीडिया पर कुलदीप सिंह रावत हो रहे ट्रोल

-डैस्क : केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़

रूद्रप्रयाग। जनपद की केदारनाथ विधानसभा में निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन दाखिल कर चुके निर्दलीय प्रत्याशी कुलदीप सिंह रावत की शैक्षणिक योग्यता पर को लेकर सोशल मीडिया में खूब ट्रोल हो रहे हैं। दरसल कुलदीप रावत मात्र 8वीं पास हैं जबकि उन्होंने अपने फेसबुक एकाउंट पर डीएवी कॉलेज देहरादून डाला हुआ है। इसी मुद्दे को लेकर अब वे सोशल मीडिया में जमकर ट्रोल हो रहे हैं। 



फेसबुक पर लिसिता नेगी नाम की एक यूजर ने लिखा है "केदारनाथ विधानसभा का एक प्रत्याशी ऐसा भी जो वर्ष 2017 में धन बल के दम पर चुनाव लड़ चुके हैं नामांकन के दौरान उनकी शैक्षिणक योग्यता 8वीं पास बताई गई है और साहब ने प्रोफाइल में DAV College dehradun डाला  गया है। मजे की बात यह है कि j i c  malhan जिस स्कूल का नाम प्रोफाइल में डाला गया है वो स्कूल पूरे देहरादून में कोई ढूँढ कर बता दे। ऐसा कोई स्कूल ही नहीं है यही नहीं समाजसेवी महोदय पैतृक रूप से जिला चमोली के रहने वाले हैं और वोटर id में देहरादून का adress है। अपनी कमाई के रूपयों से दान पुण्य की योग्यता के आधार पर केदारनाथ विधानसभा से चुनाव लड़ना चाहते हैं। मेरा सिर्फ यही कहना है कि रतन टाटा मुकेश अंबानी, गौतम अडानी माता मंगला बाबा रामदेव भी चैरिटी के द्वारा समाजसेवा करते हैं क्या उनको भी चुनाव इस समाजसेवा के आधार पर चुनाव लडकर वोट मांगने चाहिए। सोचें जरूर राजनीति में शैक्षणिक योग्यता भी जरूरी है। विधानसभा में बोलने वाला वक्ता चाहिए होता है सिर्फ रूपये पैसे के दम पर की भीड़ इकट्ठा कर रैली में हाथ हिलाने वाला नेता नहीं।।""

फेसबुक यूजर्स ने कुलदीप सिंह रावत की फेसबुक प्रोफाइल व नामांकन के दौरान योग्यता का ब्यौरा की फोटो भी संलग्न कर रखी है। जबकि इस मुद्दे को विपक्षी भी खूब भुना रहे हैं। इस बार भी कुलदीप रावत चुनाव मैदान में हैं ऐसे में यह मुद्दा आने वाले दिनों में और प्रमुखता से भुनाया जा सकता है।

No comments: