Breaking News



Wednesday, 26 January 2022

73वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर जनपद मुख्यालय में कोविड गाइडलाइन के अनुसार कार्यक्रम आयोजित किए गए।


               73वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर  जनपद मुख्यालय में कोविड गाइडलाइन के अनुसार कार्यक्रम आयोजित किए गए। 



मुख्य कार्यक्रम गुलाबराय मैदान में आयोजित किया गया जिसमें जिलाधिकारी मनुज गोयल ने मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग कर झंडारोहण किया तथा परेड का निरीक्षण कर परेड की सलामी ली।

              जिलाधिकारी ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि वैसे तो हर वर्ष गणतंत्र दिवस हर्षोल्लास व सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ पूर्ण भव्यता के साथ मनाया जाता है, लेकिन इस बार कोविड-19 प्रोटोकाल के कारण इसकी भव्यता में कुछ कमी हुई है, लेकिन विश्वास जताते हुए कहा कि हम सभी की राष्ट्रीयता की भावना में कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि आज का दिन हमें अपने अधिकारों, कत्र्तव्यों, देश के प्रति समर्पण तथा देशभक्ति की याद दिलाता है। देश में सशक्त लोकतंत्र की स्थापना बनाए जाने हेतु संविधान सभा द्वारा 25 नवंबर 1949 को लोकतांत्रिक गणराज्य के रूप में संविधान का स्वरूप अंगीकार किया गया तथा आज ही के दिन 26 जनवरी 1950 को देश का संविधान लागू किया गया। उन्होंने देश के शहीदों के बलिदान को याद करते हुए कहा कि आज उनको भावांजलि देने का पर्व भी है। गणतंत्र के अर्थ को समझाते हुए उन्होंने कहा कि इसका आशय जनता के द्वारा जनता के लिए शासन है। हम सभी की जिम्मेदारी देश के स्वर्णिम भविष्य हेतु आपसी मतभेद भुलाते हुए देश को उन्नति के पथ पर अग्रसर करना है।

            उन्होंने युवाओं का आह्वान करते हुए कहा कि युवा देश का भविष्य हैं ऐसे में सभी शिक्षित होकर नशे जैसी बुरी आदतों व सामाजिक कुरीतियों का बहिष्कार कर अपनी ऊर्जा को सही दिशा में लगाते हुए समाज को रोशन करने का कार्य करें। उन्होंने बेटियों को भी शिक्षित होकर स्वावलंबी बनाने पर बल दिया ताकि उन्हें समाज में आत्मविश्वास से जीने का अवसर मिल सके। एक बेटी के शिक्षित होने से संपूर्ण परिवार व समाज निःसंदेह शिक्षित हो सकता है। वर्तमान में कोविड-19 के अंतर्गत जारी दिशा-निर्देशों का पालन करने की अपील करते हुए कहा कि कोविड-19 के संक्रमण के प्रभाव को समाप्त करने के लिए स्वदेशी वैक्सीन निर्मित कर शतप्रतिशत कोविड टीकाकरण का लक्ष्य प्राप्त कर लिया है। हम आशान्वित हैं कि हम सभी के एकजुट प्रयास से शीघ्र ही इस वैश्विक महामारी से मुक्त हो सकते हैं तथा सभी गतिविधियां सामान्य रूप से संचालित होनी प्रारंभ हो जाएंगी। इसलिए महामारी में बचाव ही सुरक्षा है।

              इसके साथ ही उन्होंने विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 में सभी से भाग लेते हुए मताधिकार का अनिवार्य रूप से उपयोग करने की अपील करते हुए कहा कि 14 फरवरी 2022 के दिन लोकतंत्र के महापर्व पर सभी नागरिकों द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग किया जाना है। मतदान का अधिकार भी हमें संविधान से ही मिला है, इसलिए मतदान में भाग लेना भी स्वतंत्रता संग्राम सैनानियों की शहादत का सम्मान करना ही है। उन्होंने सभी से मतदान में भाग लेने की अपील करते हुए कहा कि अन्य लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करें। गुलाबराय मैदान में आयोजित कार्यक्रम में पुलिस के जवानों, महिला पुलिस, पीएसी, होमगार्ड के जवानो द्वारा परेड में भाग लिया गया तथा सेना का बैंण्ड भी परेड में शामिल हुआ।

              इससे पूर्व जिलाधिकारी द्वारा जिला कार्यालय में ध्वजारोहण कर उपस्थित अधिकारियों व कर्मचारियों को भारतीय गणतंत्र की शपथ दिलाई गई। इसके उपरांत जिलाधिकारी ने जिला चिकित्सालय में पहुंचकर भर्ती मरीजों से मिलकर उनकी कुशलक्षेम पूछी तथा सभी के जल्द ही स्वस्थ होने की कामना की तथा भर्ती मरीजों को फल वितरण भी किए गए।

            इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल, मुख्य विकास अधिकारी नरेश कुमार, अपर जिलाधिकारी दीपेंद्र सिंह नेगी, उप जिलाधिकारी रुद्रप्रयाग अपर्णा ढौंडियाल, मुख्य शिक्षा अधिकारी यशवंत सिंह चौधरी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. बी.के. शुक्ला, पुलिस उपाधीक्षक हर्षवर्धनी सुमन व प्रबोध कुमार घिल्डियाल, अधिशासी अभियंता लोनिवि निर्भय सिंह सहित जिला स्तरीय अधिकारी, एनसीसी कैडेट क्षेत्रीय जनता एवं गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन किशन रावत द्वारा किया गया।

            जनपद में गणतंत्र दिवस के अवसर पर सभी सरकारी कार्यालयों एवं शिक्षण संस्थानों में कार्यालध्यक्षों द्वारा ध्वजारोहण किया गया तथा विकास भवन परिसर में मुख्य विकास अधिकारी नरेश कुमार द्वारा ध्वजारोहण किया गया।



No comments: