Breaking News

Tuesday, 21 December 2021

गोपेश्वर में जिला अस्पताल की लापरवाही से गई नवजात शिशु की जान

 गोपेश्वर में जिला अस्पताल की लापरवाही से गई नवजात शिशु की जान

 सोनिया मिश्रा /केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज

चमोली। गोपेश्वर से एक सनसनी खेज मामला प्रकाश में आया है यहां जिला चिकित्सालय की लापरवाही से एक नवजात शिशु को जान गई है परिजनों ने मामले को शिकायत मुख्य चिकित्सा अधिकारी से की है आज न्याय की गुहार लगाई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार गोपेश्वर के नजदीकी गांव पाडली की प्रियंका देवी पत्नी अशोक बिष्ट  को आज सुबह प्रसव वेदना के बाद परिजनों द्वारा जिला अस्पताल गोपेश्वर लाया गया जहां चिकित्सकों द्वारा नॉर्मल डिलीवरी करवाने की बात कहकर उन्हें वहां भर्ती कर दिया गया परिजनों का आरोप है कि डॉक्टरों द्वारा तीन घंटे व्यतीत होने के बाद भी जब परिजनों को कोई जानकारी नहीं दी गई तो महिला के साथ  अस्पताल पहुंचे ग्रामीणों ने हंगामा काटना आरंभ कर दिया ग्रामीणों के बढ़ते दबाव को देखते हुए डॉक्टरों ने जवाब  दिया की नवजात शिशु की डिलीवरी के बाद मृत्यु हो गई।

परिजनों  ने आरोप लगाया कि डाक्टरों द्वारा उन्हें गुमराह किया गया जब सामान्य डिलीवरी नहीं होनी थी तो आखिर समय से पहले गर्भवती को रेफर क्यों नहीं किया गया? और तीन घंटे तक परिजनों को क्यों धोखे में रखा गया? जबकि डाक्टरों व अन्य स्टाफ द्वारा परिजनों व ग्रामीणों के साथ भारी अभद्रता भी की गई गर्भवती प्रियंका देवी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को पत्र लिखकर पूरे मामले में जांच कर न्याय की गुहार लगाई है।

उधर इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने  दूरभाष पर  बताया कि यह मामला मेरे संज्ञान में नहीं है मैं मुख्यालय से बाहर हूं पूरे मामले की जानकारी सीएमएस से प्राप्त कर आवश्यक कारवाही की जायेगी  बहरहाल जिला अस्पताल गोपेश्वर में इस तरह के मामले पहले भी आ चुके हैं लेकिन कारवाही के नाम पर केवल जांच बिठाई जाती है लेकिन जांच का निष्कर्ष ठंडे बस्ते में चला जाता है।

No comments: