Breaking News

Sunday, 10 October 2021

बेटे की शादी की शहनाई बजने की थी तैयारी, असामयिक निधन से छाया घर में मातम।

 बेटे की शादी की शहनाई बजने की थी तैयारी, असामयिक निधन से छाया घर में मातम।


नर्वदेश्वर जमलोकी के बड़े पुत्र सूरज जमलोकी की अगले महीने 29 नवंबर को विवाह तय है। नवरात्रि के पावन पर्व पर विवाह के निमंत्रण पत्र जगह-जगह दिये जाने लगे। यहाँ तक कि केदारनाथ वीआईपी ड्यूटी के दौरान उनका स्वास्थ्य खराब हुआ और वह देहरादून उपचार के लिए गए, तो वहाँ भी वे नाते-रिश्तेदारों को विवाह का निमंत्रण पत्र देने के लिए अपने साथ ले गये थे। मगर विधि को शायद यह मंजूर नहीं था, अस्पताल में उनकी मृत्यु पर हर जगह शोक की लहर छा गई। जिसने अभी सुना, यकीन नहीं कर पाया।।

दिवंगत एन पी जमलोकी के परिजन आचार्य हर्ष जमलोकी ने कहा कि जमलोकी जी के पिता धर्माचार्य बीएन जमलोकी भी इसी उम्र में श्री बदरीनाथ- केदारनाथ मंदिर समिति में सेवा के दौरान असामयिक मृत्यु का शिकार हो गए थे।

दिवंगत जमलोकी जी का बड़ा बेटा इंजीनियर श्रीनगर में रेलवे परियोजना में कार्यरत है, जबकि छोटा बेटा शुभम उखीमठ सारी क्षेत्र में अपना व्यवसाय करता है।