Breaking News

Thursday, 30 September 2021

आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को उक्रांद ने दिया समर्थन

आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को उक्रांद ने दिया समर्थन 


कार्यकत्रियों को 21 हजार रुपए मानदेय दे सरकार : मोहित डिमरी

रुद्रप्रयाग। आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने विभिन्न मांगों को लेकर दूसरे दिन भी पुराने मुख्य विकास भवन में धरना दिया। इस मौके पर उत्तराखंड क्रांति दल ने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को पूर्ण समर्थन दिया। 

आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने सरकार पर कोरे आश्वासन देने का आरोप लगाते हुए लंबित मांगों को जल्द पूरा नहीं किए जाने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है। वहीं आंदोलन को समर्थन देने पहुँचे उक्रांद युवा नेता मोहित डिमरी ने कहा कि कोई भी स्वास्थ संबंधी समस्या आने पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को बगैर किसी सुरक्षा व्यवस्था के समस्या से निपटने के लिए मैदान में उतार दिया जाता है। कोविड काल इसका उदाहरण है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को उनके मूल कार्य के अतिरिक्त आए दिन नए-नए दायित्व सौंपे जा रहे हैं, लेकिन सरकार उनकी समस्याओं के प्रति पूरी तरह उदासीन बनी हुई है। 

युवा नेता मोहित डिमरी ने कहा कि लंबे समय से आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का स्थायीकरण करने, राज्य कर्मचारी घोषित करने, 21 हजार रुपये न्यूनतम मानदेय देने, मिनी आंगनबाड़ी केंद्रों को पूर्ण केंद्र का दर्जा देते हुए कार्य करने वाली सहायिकाओं को समान कार्य के लिए समान मानदेय देने, स्वास्थ सुविधा सहित ग्रीष्मकालीन और शीतकालीन अवकाश देने की मांग की जा रही है, लेकिन अभी तक इस दिशा में कोई पहल नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि उक्रांद आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों की जायज मांगों के साथ हमेशा खड़ा है। 

उक्रांद के वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष भगत चौहान, पूर्व युवा जिलाध्यक्ष दिनेश बर्त्वाल, आईटी महामंत्री सुमित कठैत ने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकत्री लंबे समय से आंदोलन कर रही हैं, लेकिन सरकार के कान में जू तक नहीं रेंग रहा। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकत्री सरकार की योजनाओं को गांव तक पहुँचाने में अहम भूमिका निभाती है। सबसे अधिक काम करने के बावजूद उनकी उपेक्षा की जा रही है। 

इस मौके पर जिलाध्यक्ष सुनीता बर्त्वाल, उपाध्यक्ष रोशनी नौटियाल, अगस्त्यमुनि ब्लॉक अध्यक्ष सुरजी नेगी, उपाध्यक्ष शांति खन्ना, सचिव गायत्री जगवाण, कोषाध्यक्ष सुमन खंडूड़ी,सदस्य विधि रौतेला, संगीता देवी, मुन्नी देवी, दीपा, अनीता नौटियाल, सुलेखा, सरिता, कांति बिष्ट, गोदाम्बरी बिष्ट, मंजू नौटियाल, सुंदरी, सुमेधा देवी, कांति बिष्ट, रजनी नौटियाल, कांता पंवार, दिगम्बरी, राजेश्वरी देवी, चंदा देवी, रीना देवी, सरिता नेगी, विद्योत्तमा, सरस्वती देवी, मंजू देवी, कमला भंडारी, गीता देवी, माहेश्वरी सहित कई आंगनबाड़ी कार्यकत्री मौजूद थी।