Breaking News

Tuesday, 21 September 2021

ऊर्जा निगम की लापरवाही ने ली एक की जान, भारी भरकम ओवरलोडिंग वाहन में सामान के साथ 11 लोग थे सवार


ऊर्जा निगम की लापरवाही ने ली एक की जान, भारी भरकम ओवरलोडिंग वाहन में सामान के साथ 11 लोग थे सवार

डैस्क : केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़

रूद्रप्रयाग।  ऊर्जा निगम का सामान लेकर सोनप्रयाग से त्रियुगीनारायण जा रही पिकअप-407 मंगलवार को अनियंत्रित होकर सड़क पर पलट गई। हादसे में सात लोग घायल हो गए। अस्पताल ले जाते समय एक ने दम तोड़ दिया। घायलों को जिला चिकित्सालय रुद्रप्रयाग में भर्ती कराया गया। वहां से एक को हायर सेंटर रेफर किया गया है। वाहन में चालक समेत कुल 11 लोग सवार थे। दूसरी ओर जहां अस्पताल प्रबंधन एक मौत की पुष्टि कर रहा है वहीं ऊर्जा निगम के अधिकारी इनकार करते रहे।

मंगलवार सुबह 9.30 बजे पिकअप-407 सोनप्रयाग से ऊर्जा निगम की हाई टेंशन लाइन के निर्माण का सामान लेकर त्रियुगीनारायण जा रहा था। कोणगट बैंड के पास विपरीत दिशा से आ रहे घोड़ा-खच्चरों के आने से वाहन अनियंत्रित होकर सड़क के ऊपरी हिस्से से पलटकर नीचे के हिस्से पर जा गिरा। वाहन में चालक भूपेंद्र सिंह सहित भीम सिंह, कुलदीप सिंह, हेमंत सिंह, अरुण सिंह, हरदेव, शशि कपूर सिंह, करन सिंह, प्रदीप सिंह, संदीप सिंह और मोहन सिंह सवार थे। सूचना पर यात्रा मैनेजमेंट फोर्स, डीडीआरएफ, एसडीआरएफ और पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंचकर सभी को यात्रा चिकित्सालय सोनप्रयाग पहुंचाया। वहां से भीम सिंह, कुलदीप सिंह, हेमंत सिंह, अरुण सिंह, हरदेव, शशि कपूर सिंह, करन सिंह को जिला चिकित्सालय रुद्रप्रयाग भेजा गया। गंभीर चोट के कारण करण सिंह (50) पुत्र योगी सिंह, निवासी ऊधमसिंह की अस्पताल पहुंचने से पहले ही मौत हो गई। वहीं, हेमंत सिंह को भी हायर सेंटर बेस अस्पताल रेफर कर दिया गया है। वहीं अन्य पांच घायलों को उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है।

जिला चिकित्सालय के सीएमएस डॉ. डीवीएस रावत ने बताया कि एक मजदूर मृत अवस्था में अस्पताल लाया गया। मृतक का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। दूसरी तरफ ऊर्जा निगम के सेकेंडरी फिल्ड वर्क के इंजीनियर संदीप सती का कहना है कि हादसे में किसी भी मजदूर की मौत नहीं हुई है। कोतवाली रुद्रप्रयाग समेत प्रशासन के पास भी हादसे को लेकर विस्तृत जानकारी नहीं है।