Breaking News

Monday, 23 August 2021

बिजली विभाग के जेई का ऑडियो वायरल : लाइनमैन को दे रहा है भद्दी भद्दी गालियां।

Vijal vibhag ke je ka odiao vayral

बिजली विभाग के जेई का ऑडियो वायरल : लाइनमैन को दे रहा है भद्दी भद्दी गालियां 


कुलदीप राणा आजाद/केदारखंड एक्सप्रेस 

रुद्रप्रयाग। जनपद के जखोली विकासखंड में इन दिनों बिजली विभाग के जेई व लाइनमैन के बीच फोन पर हुई बात का ऑडियो वायरल हो रखा है, जिसमें जेई द्वारा लाइनमैन को मां-बहन की भद्दी भद्दी गालियां दी जा रही है।लाइनमैन वार्ता में  बार-बार जैसे रिक्वेस्ट कर रहा है कि इस तरह की गालियां ना दीजिए लेकिन जेई साहब हैं कि खुद को राजा समझ रहे हैं। मर्यादा की सारी लाइने लांग रहे है और अपने अधीनस्थ छोटे कर्मचारी को इस तरह गाली दे रहा है जैसे मानो वह उसका गुलाम हो। 


दरअसल पूरा मामला जखोली विकासखंड का है जहां बिजली विभाग में तैनात जेई रणवीर सिंधवाल और लाइनमैन सतेन्द्र बिष्ट के बीच फोन पर वार्ता हो रही है जेई द्वारा  लाइनमैन को  बांगर क्षेत्र में चक्की के कनेक्शनों के पैंसे जमा करवाने, लिस्ट बनाने की बात की जा रही हैं जिसमें लाईनमैन द्वारा बताया जा रहा है कि उन्होंने सभी करवा दिए हैं केवल एक व्यक्ति है जिन्होंने सोमवार को जमा करने के लिए कहा है। फिर भी उन्हें बांगर क्षेत्र में जाने की बात कर रहे हैं  लेकर लेकिन जेई की बातों को न मानते हुए लाइनमैन यह कहता हुआ सुनाई दे रहा है कि उनके पास वहां जाने के लिए पैसे नहीं हैं लंबे समय से उन्हें वेतन नहीं मिला है वह कैसे वहां जाएंगे। जिस पर जेई आग बबूला हो गया लाईनमैंन को नौकरी छोड़ने के साथ-साथ मां बहन की भद्दी भद्दी गालियां देने लगा हालांकि लाइनमैन द्वारा उन्हें गाली देने से रोकने पर जेई साहब और अधिक गालियां बरसाने लगे। 

आप भी सुनिए बातचीत के इस ऑडियो को-



बातचीत से साफ तौर पर लग रहा है कि जेई द्वारा कितनी भद्दी गालियां दी जा रही हैं।किसी भी सभ्य समाज में इस तरह की भाषा का प्रयोग कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है और खास तौर पर जब कोई सरकारी पद पर बैठा हो और वह अपने अधीनस्थ कर्मचारियों को इस तरह की भद्दी गालियां बरसे तो निश्चित तौर पर उनके आचरण व्यवहार नियमावली के तहत सख्त कार्यवाही की जानी चाहिए। कोई भी व्यक्ति छोटा हो या बड़ा, कर्मचारी हो अधिकारी, मजदूर हो या बिजनेसमैन, फकीर हो या राजा हर किसी का अपना स्वाभिमान होता है। ऐसे में इस तरह की गालियां देना कितना गलत और कितना सही है यह आप भली-भांति जानते हैं लेकिन जिम्मेदार अधिकारियों को इस पर एक्शन लेना चाहिए। 


इस पूरे मामले में लाइनमैन सत्येंद्र सिंह बिष्ट का कहना है कि बैटरी जनपद के रहने वाले हैं और पिछले 3 वर्षों से ठेकेदारी प्रथा के अंतर्गत रुद्रप्रयाग के जखोली विकासखंड में लाइनमैन के पद पर तैनात हैं। उन्होंने कहा की बिजली विभाग द्वारा जनवरी महीने से उन्हें वेतन नहीं दिया गया है जिस कारण उनके पास इधर उधर जाने के लिए पैसे नहीं बचे हैं। विभाग द्वारा इन्हें जहां-तहां दौड़ाया जाता है लेकिन बिना वेतन कोई कैसे जाएगा। जब जेई सहाब इसी संबंध में मेरी वार्ता हुई तो वह मां बहन की गालियां देने लगे इससे पहले भी उनके द्वारा कही बार गालियां दी गई हैं। 

उधर जेई  रणवीर सिंधवाल का कहना है की लाइनमैन द्वारा उन्हें गुस्सा दिलाया इसलिए उन्होंने गुस्से में गालियाँ दे दी। लेकिन इसके अलावा उन्होंने यह भी बताया कि लाइनमैन द्वारा बिजली के उपकरणों की चोरी कर अन्य यंत्र बेचा जाता है जिसकी शिकायत उनके द्वारा बिजली विभाग के उच्चाधिकारियों से भी की गई लेकिन लाइनमैन के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया गया। 

बिजली विभाग के अधिशासी अभियंता मोहित डबराल का कहना है जेई और लाइनमैन के बीच इस तरह की शिकायतें पहले भी कई बार आ चुकी है। इन दोनों को आचरण व्यवहार में सुधार लाने के लिए पहले भी सख्ती से निर्देश दिए जा चुके हैं इस बार पुनः मामला संज्ञान में आया है इसके लिए उच्चाधिकारियों से बात कर इनके विरुद्ध आवश्यक कार्यवाही की जाएगी। लाइनमैन को वेतन न मिलने के सवाल पर उन्होंने बताया कि यह मामला शासन स्तर से होता है शासन स्तर से ही इनका बजट नहीं आया है इसलिए इनके वेतन जारी करने में विलंब हो रहा है।