Breaking News

Wednesday, 7 July 2021

कोटेश्वर अस्पताल को बेस अस्पताल बनाने की उठने लगी मांग


कोटेश्वर अस्पताल को बेस अस्पताल बनाने की उठने लगी मांग


जन अधिकार मंच ने उठाया मुद्दा, जनता से सहयोग की अपील

बेस अस्पताल बनने से जनता को मिलेंगी बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं: मोहित डिमरी


डैस्क केदारखंड एक्सप्रेस न्यूज़

रुद्रप्रयाग। जन अधिकार मंच के अध्यक्ष मोहित डिमरी ने कोटेश्वर माधवाश्रम अस्पताल को बेस अस्पताल बनाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि यहां पर बेस अस्पताल बनने से रुद्रप्रयाग के साथ ही चमोली, बागेश्वर, टिहरी जनपद के लोगों को भी लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि बेस अस्पताल की मांग के लिए जल्द ही मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री से मुलाकात की जाएगी। 

जन अधिकार मंच के अध्यक्ष मोहित डिमरी ने कहा कि जिला चिकित्सालय को कोटेश्वर माधवाश्रम अस्पताल में शिफ़्ट करने के बजाय कोटेश्वर अस्पताल को सुविधाओं से लैस बेस अस्पताल बनाया जाय। इससे आम जनता को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मिलेंगी। उन्होंने कहा कि इन दिनों जिला चिकित्सालय में हर रोज करीब तीन सौ मरीजों की ओपीडी (बाह्य रोगी) है। यात्रा सीजन के दौरान यही संख्या हर रोज 800 पार कर जाती है। जिला चिकित्सालय में मरीजों की अत्याधिक संख्या के कारण अव्यवस्थाएं फैल जाती हैं। दुर्घटना होने पर मरीज को श्रीनगर बेस अस्पताल के लिए रेफर करना पड़ता है। अन्य किसी भी तरह की क्रिटिकल सिचुएशन में घायलों/मरीजों को रेफर करना जिला चिकित्सालय की मजबूरी बन जाता है। इन तमाम असुविधाओं को देखते हुए कोटेश्वर अस्पताल को बेस अस्पताल के रूप में तैयार करना बेहद जरूरी है। 

मोहित डिमरी ने कहा कि कोटेश्वर अस्पताल में बेस अस्पताल के लिए पर्याप्त जगह है। यहां पर पहले से ही इंफ्रास्ट्रक्चर मौजूद है, जिसे विस्तार देने की जरूरत है। उन्होंने आम जनता से अपील करते हुए कहा कि बेस अस्पताल के निर्माण के लिए आगे आएं और मुखरता से आवाज़ उठाएं।