Breaking News

Friday, 30 July 2021

तहसीलदार सोहन सिंह रांगड का स्थानान्तरण, विदाई समारोह में उनके कार्यों को किया याद

तहसीलदार सोहन सिंह रांगड का स्थानान्तरण, विदाई समारोह में उनके कार्यों को किया याद

कर्णप्रयाग /सोनिया मिश्रा
अधिकारियों का समय समय पर स्थानान्तरण होना कोई बड़ी बात नहीं है किंतु कुछ अधिकारी जनता के बीच अपनी एक बहुत अच्छी छवि और कार्यों को कर मशहूर हो जाते है 
चमोली जनपद के पहाड़ी क्षेत्रों में सात साल सेवा देने के बाद एक ईमानदार व कर्तव्य निष्ठ अधिकारी तहसीलदार सोहन सिंह रांगड का आज कर्णप्रयाग से देहरादून के लिए स्थानान्तरण हो गया है । उनकी विदाई के मौके पर तहसील कर्णप्रयाग में विदाई समारोह का आयोजन किया गया , इस अवसर पर कर्णप्रयाग नगर के गणमान्य लोगो सहित , बार संघ के अधिवक्ता , और पत्रकारो व विभिन्न विभागों के कर्मचारियों ने भी कार्यक्रम में शिरकत की , कर्णप्रयाग तहसील के कर्मचारियों ने फूल मालाओं के साथ उन्हें प्रतीक चिन्ह भेंट कर उन्हें विदाई दी , अपने सीनियर अधिकारी की विदाई समारोह के मौके पर चमोली जिले के राजस्व उपनिरीक्षक संघ के जिलाध्यक्ष देवेन्द्र कण्डारी ने कहा कि तहसील दार महोदय के साथ कार्य करते हुए हमें बहुत कुछ सीखने का मौका मिला , हम सदैव आपके मार्गदर्शन में कार्य करते रहेंगे । उपजिलाधिकारी कर्णप्रयाग वैभव गुप्ता ने कहा कि बतौर तहसीलदार सोहन सिंह रांगड जी का कार्यकाल अत्यन्त सराहनीय रहा है । जनता की समस्याओं का निराकरण करना रांगड जी की प्राथमिकता रही है । यही कारण रहा है कि आपको जिला स्तर पर उत्कृष्ट कार्यो के लिए सम्मानित भी किया गया , कार्यक्रम के अंत मे श्री रांगड जी ने कहा कि जनता के प्यार और सहयोग से सात साल पहाड़ो में कब गुजर गये पता भी नही चला , मैंने जो कुछ भी अच्छा किया वह जनता के सहयोग से ही हो पाया है । अपने जूनियर अधिकारियों व कर्मचारियों को उन्होंने कहा कि अपने सीनियर अधिकारियों के आदेशों का पालन करना व जनता के प्रति जबाब देही पहली प्राथमिकता होनी चाहिए । उन्होंने कहा कि आज मैं चमोली जिले से देहरादून के लिए भले ही स्थानांतरित हो रहा हूँ लेकिन चमोली की जनता के प्रति स्नेह आजीवन बना रहेगा , इतना कहते कहते उनकी आंखें नम हो गयी। नम आंखों से उन्होंने वहां मौजूद सभी लोगो का धन्यवाद व आभार प्रकट किया।