Breaking News

Sunday, 11 July 2021

कुदरत का कहर : मकान जमींदोज, मलबे में जिंदा दफ़न होने से 3 की मौत


कुदरत का कहर :  मकान जमींदोज, मलबे में जिंदा दफ़न होने से 3 की मौत


-अमित गिरि गोस्वामी बागेश्वर (उत्तराखंड)

बागेश्वर। जिले के कपकोट क्षेत्र के सुमगढ़ ऐठाण में भारी बारिश से एक मकान जमींदोज हो गया जिसके चलते मलबे में दबने के कारण मकान में मौजूद पति-पत्नी समेत बेटे की मौत हो गई है वहीं सूचना पाकर राजस्व पुलिस और SDRF की टीम शवों को रेस्क्यू करने में जुटी है वहीं स्थानीय लोग भी इस कार्य में जुटे। 

आपदा कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के मुताबिक कपकोट तहसील के ग्राम सुमगढ़ के ऐठाण गांव में अतिवृष्टि एक परिवार पर कहर बनकर टूट पड़ी अतिवृष्टि से ध्वस्त मकान में एक ही परिवार के तीन लोग जिंदा दफन हो गए मृतकों में गोविंद पंडा पुत्र प्रताप सिंह पंडा उनकी धर्मपत्नी खष्टी पंडा एवं उनका 7 साल का बच्चा हिमांशु भी शामिल है आपदा प्रबंधन अधिकारी शिखा सुयाल ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही SDRF एवं आपदा राहत बचाव दल मौके पर पहुंच गया है और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया है। 

कपकोट क्षेत्र में बीती रात्रि से लगातार हो रही बारिश के कारण भूस्खलन होने से जहां एक मकान पूरी तरह ध्वस्त हो गया वहीं अतिवृष्टि से क्षेत्र में कृषि एवं कई मकानों को भी खतरा बना हुआ है. कपकोट क्षेत्र में अभी तक 45 MM वर्षा दर्ज की गई इस घटना के बाद से क्षेत्र के लोगों में डर का माहौल बना हुआ है इधर घटना पर दुःख जताते हुए भाजयुमो प्रदेश उपाध्यक्ष सुरेश गढ़िया ने मृतकों की शान्ति के लिए प्रार्थना की है साथ ही उन्होंने CM पुष्कर सिंह धामी को फोन के माध्यम से घटना की जानकारी देते हुए मृतकों के परिजनों को तत्काल मुआवज़ा देने की माँग की है !



BITE- शिखा सुयाल (आपदा प्रबन्धन अधिकारी- बागेश्वर)