Breaking News

Sunday, 13 June 2021

अवैध खनन माफियाओं के विरूद्ध जखोली में जारी आॅपरेशन अंधेरा: इस बार कई बड़े माफिया भी धरे तहसील प्रशासन ने

प्रतीकात्मक फोटो

अवैध खनन माफियाओं के विरूद्ध जखोली में जारी आॅपरेशन अंधेरा: इस बार कई बड़े माफिया भी धरे तहसील प्रशासन ने


डैस्क: केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज

रूद्रप्रयाग। विकासखण्ड जखोली में तहसील प्रशासन का अवैध खनन के विरूद्ध आॅपरेशन अंधेरा  जारी है। आॅपरेशन अंधेरा इसलिए कहा जा रहा है कि क्योंकि अवैध खनन माफिया रात के अंधेरे में उप खनिज पर चाँदी काट रहे हैं। बीते रोज भी तहसील प्रशासन ने तीन डम्पर वाहनों को अवैध रेता बजीरी और पत्थरों के साथ सीज कर संबंधित धाराओं में कार्यावाही की है। बीते एक सप्ताह के भीतर तहसीलदार मौहमद शादाब की अगुवाई में 7 डंम्परों को सीज किया जा चुका है। ऐसे में अवैध खनन माफियाओं की नींद उड़ी हुई है। 

तिलवाड़ा-कंडाली मोटर मार्ग पर सूर्यप्रयाग के समीप से बीती रात को दो डंम्परों को अवैध रेता के साथ सीज किया गया। पहला वाहन यूके-13 सीए 1412 था जिसका मालिक बलवंत सिंह रावत पुत्र रणजोर सिंह रावत निवासी रावत पेंट एंड हार्डवेयर तिलवाड़ा है जिसका चालक धर्म सिंह राणा पुत्र सूरत सिंह निवासी ग्राम चोपड़ा पांजणा था। वहीं दूसरा वाहन संख्या यूके 13सीए 0611 वाहन स्वामी बादर सिंह कण्डारी पुत्र पूरण सिंह निवासी सुमाड़ी, पो. तिलवाड़ी वाहन चालक- त्रिलोक चंद सिंह पुत्र कलम सिंह निवासी ग्राम बजीरा जखोली था। दोनो वाहनों को सीज किया गया। हालांकि बलवंत सिंह रावत द्वारा तहसीलदार के पीछे अपना स्कारपीयों वाहन दौड़ाया गया और दो बार ओरवटैक करने के बाद बहस भी की गई। जिसके बाद स्कारपियों वाहन को सीज करने के भी निर्देश दिये जा चुके हैं। 


वहीं एक अन्य वाहन  संख्या- यूके13 सीए0531वाहन स्वामी  भुवनेश्वरी देवी  पत्नी रामकृष्ण निवासी सचिदानंद नगर वार्ड पांच-05, वाहन चालक हिमांशु सिंह पुत्र मोहन सिंह ग्राम सिनाँऊ तल्ला मल्ला तहसील पोखरी चमोली द्वारा जखोली के बजीरा क्षेत्र से सड़क निर्माण संबंधी पत्थर उठाये जा रहे थे जिसका वाहन सीज किया जा चुका है। 

आपको बताते चले कि लम्बे समय से तिलवाड़ा-कंडाली मोटर मार्ग पर सूर्यप्रयाग के समीप पिछले कई सालों से अवैध खनन का गोरख धंधा स्थानीय लोगों और छुट्भैया नेताओं के संरक्षण में खूब फल फूल रहा है, लेकिन कोई भी आजतक इस पर कार्यावाही करने को तैयार नहीं था। ऐसे में बड़े पैमाने पर सरकारी उपखनिज पर चाँदी काट रहे खनन माफिया सरकारों को लाखों रूपये के राजस्व का चूना लगा रहे थे। हाल ही में तहसीलदार जखोली मौहमद शादाब को जब इस बात की शिकायत मिली तो उनके द्वारा रात्रि के समय अवैध खनन के इस खेल में शामिल लोगों की धर पकड़ शुरू की गई। बीत एक सप्ताह में सात वाहन सीज किये जा चुके हैं। 

आॅपरेशन अंधेरे में  बीती रात हुई कार्यावाही में तहसीलदार मौहमद शादाब जखोली, शफीक अहमद रा.उ.नि. जखोली/बजीरा, राय सिंह गुंसाई रा.उ.नि. तुनेटा, नरेन्द्र रावत रा.उ.नि.जाखाल,  मंगता एवं द्वारारिका शामिल थे।