Breaking News

Monday, 3 May 2021

सीमा सड़क संगठन ने डाला थराली के सिमलसैंण के ग्रामीणों को खतरे में


सीमा सड़क संगठन ने डाला  थराली के सिमलसैंण  के ग्रामीणों को खतरे में 

-नवीन चंदोला/केदारखण्ड एक्सप्रेस 


थराली। सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) की लापरवाही के कारण थराली के सिमलसैण के ग्रामीण खतरे की जद में आ गये हैं। डम्पिंग जोन में मिट्टी न डालकर गधेरे को मिट्टी से भर दिया है जो आने वाले बरसात में आवासीय मकानों के लिये भारी खतरा उत्पन्न होने की आशंका है।  

दरअसल बी0आर0ओ0 का सड़क चौड़ीकरण का कार्य चल रहा है जिसमें नए बुसेड़ी पुल का निर्माण कार्य शुरू हो गया है। क्योंकि जो पुराना पुल था वह जर्जर स्थिति में था इसलिए आजकल पुल का कालम के लिए गड्ढा किया गया लेकिन धन बचाने के लिए कार्यदायीं संस्था  उसकी मिट्टी डंपिंग जोन में न डालकर सामने गधेरे में डाल रहा है। जिस कारण गधेरा बंद हो गया है। स्थानीय लोगों द्वारा बीआरओ के कर्मचारियों तथा पुल के ठेकेदार और कर्मचारियों को बार-बार बोलने पर भी मिट्टी नहीं हटाई गई। बरसात में बुसेड़ी गधेरा  भारी उफान पर आता हैं जो नदी का रूप धारण कर लेता है। जिस कारण गधेरे के आसपास के लोगों की मकानों को खतरा बन गया हैं। 

शासन-प्रशासन द्वारा भी इस सम्बंध में कुछ नहीं किया गया, परमानंद चन्दोला, भोलादत चंदोला, ओम चंदोला, लीलानंद चन्दोला, बासपानंद चन्दोला की मकान को इस वजह से खतरा हो गया हैं, ग्रामीणों ने चेतावनी भी दी हैं अगर जल्द से जल्द गधेरे की मिट्टी नहीं हटाई गई तो उग्र आंदोलन की चेतावनी दी गई हैं।