Breaking News

Saturday, 22 May 2021

चमोली में कोरोना का नहीं थम रहा कहर, 2333 केश एक्टिव


चमोली में कोरोना का नहीं थम रहा कहर, 2333 केश एक्टिव 

चमोली। जिले में शनिवार को 160 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पाॅजिटिव मिली। स्वास्थ्य विभाग ने सभी संक्रमितों का इलाज शुरू कर दिया है। जिले में अब तक 10169 लोग कोरोना से संक्रमित हुए है। जिसमें से 7611 लोग स्वस्थ्य हो चुके है और 2333 केस एक्टिव हैं।

 
कोविड संक्रमण की रोकथाम को लेकर जिला प्रशासन सभी जरूरी कदम उठा रहा है। जिला प्रशासन द्वारा जनपद वासियों को संक्रमण से बचने के लिए शारीरिक दूरी रखने एवं मास्क पहनने के लिए लगातार जागरूक किया जा रहा है। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया के निर्देशों पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी संदिग्ध लोगों के सैंपल लिए जा रहे है। जिला अस्पताल सहित गौचर, कर्णप्रयाग एवं जोशीमठ में रैपिड एंटीजन तथा ट्रू-नाॅट मशीन से भी कोविड टेस्ट किया जा रहा है। शनिवार को 1025 व्यक्तियों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए। जिले से अभी तक 142453 व्यक्तियों के सैंपल की जांच की गई। जिसमें से 132284 सैंपल नेगेटिव तथा 10169 सैंपल पाॅजिटिव मिले और 643 लोगों की रिर्पोट आनी बाकी है।

स्वास्थ्य विभाग की मोबाइल टीमें गांव गांव जाकर कोरोना जांच कर रही है। अब तक स्वास्थ्य टीमों द्वारा 324 गांवों में जाकर 14988 लोगों की सैंपलिंग की जा चुकी है। गौचर बैरियर पर अब तक 2066, गैरसैंण बैरियर पर 976 तथा ग्वालदम बैरियर पर 83 लोगों का रैपिड एंन्टीजन टेस्ट किया जा चुका है। कोविड संक्रमण के उपचार के लिए 51 मरीजों अभी कोविड सेंटर में भर्ती है। इसके अलावा 1033 मरीजों को होम आइसोलेट किया गया है। गांव में आशा, आंगनबाडी तथा ग्राम प्रधानों के माध्यम से होम आइसोलेट लोगों के स्वास्थ्य संबधी देखभाल की जा रही है। ब्लाक एवं सिटी रिसपोंस टीमों द्वारा भी विभिन्न क्षेत्रों से कोरोना संक्रमण पर निगरानी रखी जा रही है।
 
जिले में अभी 15 विभिन्न स्थानों पर कन्टेनमेंट जोन बनाकर बैरिकेटिंग की गई है। कन्टेनमेंट जोन में फल, दूध सब्जी आदि दैनिक वस्तुओं की सप्लाई की जा रही है इसके लिए पास जिला पूर्ति अधिकारी को नोडल बनाया गया है। कन्टेनमेंट जोन में लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण के साथ नियमित सेनेटाइजेशन भी किया जा रहा है और संबधित एसडीएम के माध्यम से माॅनिटरिंग की जा रही है। जिले में कोविड नियमों का सख्ती से अनुपालन कराया जा रहा है। नियमों के उल्लंघन करने पर नियमानुसार कार्यवाही भी अमल में लाई जा रही है।