Breaking News

Thursday, 18 March 2021

राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई का सात दिवसीय शिविर प्रारंभ, अपने लक्ष्य को निर्धारित करें छात्र : सुमन तिवारी

 


राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई का सात दिवसीय शिविर प्रारंभ, अपने लक्ष्य को निर्धारित करें छात्र :  सुमन तिवारी


अगस्त्यमुनि। राजकीय इंटर कॉलेज चोपता की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई का सात दिवसीय शिविर प्रारंभ हो गया है शिविर का शुभारंभ मुख्य अतिथि जिला पंचायत उपाध्यक्ष सुमन तिवारी द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। कार्यक्रम में स्कूली छात्र छात्राओं के अलावा अभिभावक व क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि मौजूद थे। 

छात्रों अभिभावकों को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि जिला पंचायत उपाध्यक्ष सुमन तिवारी ने कहा राष्ट्रीय सेवा योजना का सात दिवसीय शिविर वास्तव में छात्रों को अपने आसपास के वातावरण को समझने परखने का व्यवहारिक ज्ञान देता है। उन्होंने कहा छात्र-छात्राएं अपने जीवन लक्ष्य को निर्धारित कर उसी दिशा में आगे बढ़े और अपने लक्ष्य के प्रति हमेशा गंभीर रहने के साथ-साथ सकारात्मक भाव रखें। उन्होंने कहा उनके द्वारा क्षेत्र में लगातार विकास की गतिविधियों को बढ़ावा दिया जा रहा है और क्षेत्र के चहुंमुखी विकास के लिए वह हमेशा से प्रयासरत रहे है। उन्होंने कहा वे लगातार पिछले एक दशक से भी अधिक समय से केदारघाटी के हर गांव में लोगों की समस्याएं को समझने के साथ-साथ उनके समाधान की दिशा में कार्य करते आए हैं और आगे भी जनता का आशीर्वाद सहयोग रहा तो वह केदारघाटी के प्रति हमेशा संवेदनशील रहेंगे। सुमन तिवारी ने कहा कि वे क्षेत्र में कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देने के साथ-साथ यहां उपलब्ध संसाधनों को विकसित कर अधिक से अधिक युवाओं को स्वरोजगार की दिशा में काम किया जा रहा है। जबकि प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए अधिक से अधिक कोचिंग सेंटरों की स्थापना कर यहां की प्रतिभावान युवाओं को उनकी प्रतिभा निखारने का मंच उपलब्ध करवाने की दिशा में काम कर रहे हैं।

इससे पूर्व कार्यक्रम अध्यक्ष प्रधानाचार्य परमवीर सिंह कुंवर ने स्वयंसेवियों से भविष्य में सशक्त सामाजिक एवं जागरूक युवा बनने का आवाहन किया है। तत्पश्चात स्वयंसेवकों द्वारा सरस्वती वंदना, स्वागत गान एवं रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम अधिकारी महावीर सिंह सजवान द्वारा राष्ट्रीय सेवा योजना के उद्देश्यों तथा कार्यों पर प्रकाश डालते हुए नशा मुक्त समाज के निर्माण के लिए बच्चों का मार्गदर्शन किया।