Breaking News


 

Thursday, 25 February 2021

लोक निर्माण विभाग रूद्रप्रयाग डाल रहा था अवैध रूप से अलकनंदा नदी में मलवा, वन विभाग ने की बडी कार्यवाही

 


लोक निर्माण विभाग रूद्रप्रयाग  डाल रहा था अवैध रूप से अलकनंदा नदी में मलबा, वन विभाग ने की बडी कार्यवाही,  


भूपेंद्र भण्डारी/केदारखण्ड एक्सप्रेस 

रुद्रप्रयाग। जखोली विकासखंड के अंतर्गत निर्माणाधीन सड़क उत्तासू से मल्यासु पर लोक निर्माण विभाग द्वारा लंबे समय से व्यापक पैमाने पर अलकनंदा नदी में अवैध रूप से मलवा गिराया जा रहा था, ऐसे में आज वन विभाग ने इस पर बड़ी कार्यवाही की है। मौके पर एक पोकलैंड मशीन द्वारा  अवैध रूप से अलकनंदा नदी में मलबा गिराया जा रहा था जिस पर वन विभाग ने बड़ी कार्यवाही करते हुए पोकलैंड मशीन को सीज कर दिया है और वन अधिनियम की संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया जा चुका है।



डीएफओ वैभव कुमार सिंह से मिली जानकारी के अनुसार रुद्रप्रयाग वन प्रभाग की दक्षिणी जखोली रेंज के रतनपुर अनुभाग में निर्माणाधीन सड़क उत्तासू से मल्यासु में पोकलैंड द्वारा अवैध मलबा सीधा अलकनंदा नदी में डाल रहा था, जिस पर त्वरित कार्यवाही करते हुए पोकलैंड  को मौके पर ही सीज कर दिया गया। वन विभाग द्वारा वन अधिनियम 1927 के अन्तर्गत कार्यवाही की जा रही है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा जारी गाइडलाइंस के अनुसार मलबा नदी में डालना वैध नहीं है। बताया जा रहा है कि इस मोटर मार्ग के निर्माण में लोक निर्माण विभाग रुद्रप्रयाग द्वारा अवैध रूप से खुलेआम अलकनंदा नदी में मलवा गिराया जा रहा था जिससे नदी का तल लगातार उठ रहा था ऐसे में कहा जा सकता है कि आने वाले बरसात में इस मलबे से इसके निचले भागों में व्यापक तबाही हो सकती है। जरूरत है केवल कार्यवाही के नाम पर खानापूर्ति ना हो बल्कि ऐसे संवेदनशील विषयों पर सख्त कार्यवाही की जाए

No comments: