Breaking News

Saturday, 2 January 2021

तरसाली गाँव के 3 किमी सड़क की सैद्धांतिक स्वीकृति, ग्रामीणों में खुशी की लहर

 तरसाली गाँव के 3 किमी सड़क की सैद्धांतिक स्वीकृति, ग्रामीणों में खुशी की लहर

तरसाली गाँव 



डेस्क : केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़ 

ऊखीमठ। राज्य गठन के 20 वर्षों से सड़क जैसी बुनियादी सुविधा के लिये सघर्ष कर रहे तरसाली के ग्रामीणों को आखिरकार नव वर्ष 2021 में सड़क का तौफा मिल गया है। राष्ट्रीय राजमार्ग 109 फाटा से तरसाली 3किमी मोटरमार्ग की सैद्धांतिक स्वीकृति भारत सरकार ने दे दी है। लोक निर्माण विभाग उखीमठ अगर समय पर वन भूमि हस्तांतरण संबंधी धनराशि समय पर अगर जमा कर देता है तो इस वर्ष तरसाली गांव के लिए मोटर मार्ग का निर्माण कार्य आरंभ हो जाएगा।

आपको बताते चले कि तरसाली गाँव के ग्रामीण  राज्य गठन के बाद से ही सड़क की माग कर रहे थे। गाँव में पहुचने के लिये आज भी 4 से 5 किमी पैदल दूरी तय करनी पड़ती है जिससे न केवल बीमार, गर्भवती महिलाओं, स्कूली छात्रों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है बल्कि ग्रामीणों को रोजमर्रा की जरुरत की समान लेने में भी दिक्कतें झेलनी पड़ती हैं। एसे में सड़क के लिये ग्रामीणों ने धरना प्रदर्शन से लेकर चुनाव बहिष्कार की धमकिया देने ओर विभागीय अधिकारियों, नेता मंत्रियों से पत्राचार ओर विनती करके थक गये थे, केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़ ने भी समय समय पर इस मामले को प्रमुखता से उठाया। जबकि तरसाली गाँव के जगत राम सेमवाल निरंतर इस मुद्दे को हर मंच पर न केवल उठा रहे थे बल्कि विभागीय अधिकारियो, शासन स्तर पर लागातार पत्राचार कर रहे थे। परिणाम स्वरूप आज 2018 में सड़क को स्वीकृति मिली ओर वन भूमि के तमाम कागजी कारवाई से गुजरते हुये अब भारत सरकार द्वारा सैद्धांतिक स्वीकृति दी गई है लोक निर्माण विभाग ऊंची मठ अगर मुस्तैदी से बाकी की औपचारिकताएं जल्द पूर्ण करता है तो इस पर निर्माण कार्य जल्दी शुरू हो जाएगा और ग्रामीणों की दशकों पुरानी मुराद पूरी होगी और वह भी देश दुनिया से जुड़ पाएंगे।