Breaking News

Monday, 14 December 2020

Almoda : भीषण सड़क हादसा, नव विवाहिता समेत तीन लोंगो की दर्दनाक मौत, एक घायल

 Almoda : भीषण सड़क हादसा, नव विवाहिता समेत तीन लोंगो की दर्दनाक मौत, एक घायल

डेस्क: केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़ 


सल्ट में भीषण हादसा हुआ है, 50 मीटर नीचे गिरी कार, गिरी, नवविवाहिता समेत तीन की मौत तेज झटका लगने से आलम सिंह, सुरेंद्र राम व पार्वती देवी छिटक कर सड़क से नीचे खाई में जा गिरे।




अल्मोड़ा : अल्मोडा जिले के विकास खंड सल्ट में बीते सोमवार को नौकुचिया रणथमल रोड पर बेकाबू कार पहाड़ी की ओर पलटने के बाद करीब 50 मीटर नीचे इसी सड़क पर जा गिरी। हादसा इतना विकट था कि वाहन के परखच्चे उड़ गए। तेज झटका लगने से तीन लोग खाई की ओर छिटक गए। गंभीर चोट पहुंचने से उन्होंने मौके पर ही दम तोड़ दिया। एक युवक को मौत छूकर निकल गई। वह चट्टान के सहारे अटक जाने से बस बच गया। उसे नाजुक हालत में रामनगर रेफर कर दिया गया है। दिल दहला देने वाली दुर्घटना रामनगर मौलेखाल राजमार्ग से जुड़ी आंतरिक नौकुचिया रणथमल सड़क पर हुई। आलम सिंह (63) पुत्र तेग सिंह निवासी व सुरेंद्र राम (55) पुत्र भगत राम निवासीगण रणथमल सोमवार शाम करीब चार बजे कार डीएल 7सीएच 2843 से खरीदारी के लिए मौलेखाल बाजार (सल्ट ब्लाक) के लिए निकले। रास्ते में महेश कुमार पुत्र नंदराम निवासी मवलगांव व उसकी पत्नी पार्वती देवी (23) लिफ्ट लेकर बैठ गए।


कार सल्ट तहसील मुख्यालय से करीब 20 किमी दूर मवलगांव के पास पहुंची ही थी कि चालक सुरेंद्र राम तीखे मोड़ पर नियंत्रण खो बैठा। नतीजतन, वाहन अनियंत्रित होकर पहाड़ी की ओर पलट कर लगभग 50 मीटर नीचे से गुजर रही नौकुचिया रोड पर ही गिर गया। काफी ऊंचाई से गिरने व तेज झटका लगने से आलम सिंह, सुरेंद्र राम व पार्वती देवी छिटक कर सड़क से नीचे खाई में जा गिरे। सुरेंद्र राम दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में क्लर्क के पद पर था। महेश एक चट्टान से टकरा कर ऊपर ही अटक गया। इससे उसकी जान बच गई लेकिन गंभीर रूप से घायल हो गया।


हादसे का पता लगते ही आसपास के ग्रामीण दुर्घटना स्थल की ओर दौड़े। सूचना मिलते ही एस ओ सल्ट  धीरेंद्र पंत, तहसील प्रशासन  अपनी टीम के घटना स्थल  पहुंचे । साथ ही अपने निजी वाहन से घायल को गंभीर हालत में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र देवायल पहुंचाया। स्थिति नाजुक देख उसे रामनगर रेफर कर दिया गया। 


नौकुचिया रणथमल रोड पर जहां कार आकर गिरी, उसके नीचे खाई बेहद खतरनाक है। खालिस खड़ी पहाड़ी से शवों के पास पहुंचकर उन्हें चढ़ाई में सड़क तक लाना खासा मुश्किल भरा रहा। उधर हादसे से रणथमल व मवलगांव में कोहराम मचा है।