Breaking News

Wednesday, 25 November 2020

रूद्रप्रयाग में पुलिस कार्मिकों का मासिक सम्मेलन, एस पी ने की अपराध समीक्षा



रूद्रप्रयाग में पुलिस कार्मिकों का मासिक सम्मेलन, एस पी ने की अपराध समीक्षा 

डेस्क केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़ 

रूद्रप्रयाग। पुलिस लाईन रतूड़ा में  पुलिस अधीक्षक रुद्रप्रयाग नवनीत सिंह द्वारा जनपद में नियुक्त कार्मिकों का मासिक सम्मेलन लिया गया। वर्तमान में प्रचलित COVID 19 महामारी के दृष्टिगत सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए मासिक सम्मेलन आयोजित किया गया।

सबसे पहले उपस्थित कार्मिकों की समस्या पूछी गई, कतिपय समस्याग्रस्त कार्मिकों की समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण किया गया।


इस वर्ष का श्री केदारनाथ यात्रा काल सकुशल संपन्न होने पर सभी कार्मिकों को बधाई दी गई।


सभी प्रभारियों को कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, फेस शील्ड का प्रयोग किये जाने, मास्क का प्रयोग करने व पूर्ण रुप से पालन करवाये जाने हेतु निर्देशित किया गया। निर्देशित किया गया कि जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं की तर्ज पर स्वयं का व अपने परिवार का ध्यान रखेंगे।

वर्तमान में प्रचलित सर्दी के मौसम में अपना विशेष ध्यान रखे जाने हेतु निर्देशित किया गया।


किसी भी प्रकार का बुखार, खांसी जुखाम इत्यादि की शिकायत होने पर अपने कार्यस्थल पर न आकर सीधे डॉक्टर की सलाह लिए जाने हेतु निर्देशित किया गया। 

निर्देशित किया गया कि कोरोना काल में किसी भी प्रकार की छोटी सी लापरवाही एक वृहद संकट का रूप धारण कर सकती है

सभी प्रभारियों को निर्देशित किया गया कि पुलिस कार्यालय में जनपद पुलिस में नियुक्त सभी कार्मिकों व उनके आश्रितों के गोल्डन कार्ड बनाए जा रहे हैं जिस हेतु  सभी कार्मिकों को अपना अपना एवं आश्रित सदस्यों का विवरण IFMS पोर्टल पर अपलोड किए जाने हेतु निर्देशित किया गया।



इसके उपरांत पुलिस अधीक्षक द्वारा जनपद में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 4 कार्मिकों को   पुलिस मैन ऑफ द मंथ के रूप में सम्मानित कर प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया।


पुलिस मैन ऑफ द मंथ

(1)आरक्षी 11 CP  राजेश कुमार

(2)आरक्षी 09 CP  राजेश कुमार

(3)आरक्षी 51 CP रियाज अली

(4) महिला आरक्षी साधना शुक्ला  



तत्पश्चात पुलिस अधीक्षक रुद्रप्रयाग द्वारा पुलिस उपाधीक्षकों व समस्त विवेचकओं के साथ  जनपद में घटित अपराधों की समीक्षा की गयी। उपस्थिति त विवेचकों को निर्देशित किया गया कि, वर्ष 2020 अब लगभग समाप्ति की ओर है, सभी लंबित विवेचनाओं का गुण-दोष के आधार पर त्वरित निस्तारण करना सुनिश्चित करें। यह ध्यान अवश्य रखा जाए कि, वर्ष 2019 के प्रारंभ की कोई भी विवेचना अगले वर्ष तक न रहे। साइबर संबंधी मामलों में उत्तराखंड एसटीएफ से भी निरंतर सहयोग मांगा जाए, साइबर के मामलों में केवल अपराध पंजीकृत करना ही नहीं बल्कि संबंधित अपराध का खुलासा कर पीड़ित को न्याय दिलाना है।

प्रार्थना पत्रों पर गंभीरता से  तथ्यों का अवलोकन करते हुए निर्धारित समयावधि में निस्तारण किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। 


इस अवसर पर पुलिस उपाधीक्षक रुद्रप्रयाग गणेश लाल कोहली, पुलिस उपाधीक्षक गुप्तकाशी अनिल मनराल, प्रतिसार निरीक्षक पुलिस लाइन  समरवीर सिंह रावत, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली रुद्रप्रयाग कुंवर सिंह बिष्ट, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली सोनप्रयाग  होशियार सिंह पंखोली, थानाध्यक्ष अगस्त्यमुनि श्री रविंद्र कुमार, थानाध्यक्ष ऊखीमठ जहांगीर अली, कार्यवाहक थानाध्यक्ष गुप्तकाशी  संदीप देवरानी, प्रभारी एसडीआरएफ रुद्रप्रयाग  सिद्धार्थ कुकरेती, वाचक  सुबोध कुमार ममगाईं, प्रभारी डीसीआरबी सुषमा रावत, ‌चौकी प्रभारी फाटा  योगेश कुमार, चौकी प्रभारी तिलवाड़ा सीमा चौहान, चौकी प्रभारी बसुकेदार  नरेंद्र सिंह नेगी, प्रधान लिपिक  अजय कुमार, आंकिक  प्रदीप कुकरेती प्रभारी आशुलिपिक नरेंद्र सिंह इत्यादि उपस्थित रहे।

Adbox