Breaking News

Wednesday, 25 November 2020

जाम में रुकी जीप, सवारी ने उतरकर अलकनन्दा में लगाई छलांग! लापता



जाम में  रुकी जीप,  सवारी ने उतरकर अलकनन्दा में लगाई छलांग! लापता


डेस्क : केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़। 

रूद्रप्रयाग। आलवेदर परियोजना के निर्माण के कारण जाम लगा हुआ था। तभी जीप से उतरकर एक सवारी ने अलकनंदा नदी में छलांग लगा दी, इस वाक्ये को लोग बस देखेते रह गये, काभी दूर तक लोगों ने पीठ पर बैग के साथ युवक को देखा लेकिन बाद में वह डूब गया। 


दरअसल श्रीनगर से करीब 8 किलोमीटर पहले रुद्रप्रयाग की ओर फरासू हनुमान मंदिर के पास ऋषिकेश से रुद्रप्रयाग की ओर टैक्सी वाहन से जा रहा था। इस दौरान फरासु के पास भूस्खलन के चलते कार्य चल रहा था। जिस कारण लम्बा जाम लगा हुआ था।  टैक्सी रूकने पर युवक बाहर निकल कर नदी की तरफ़ गया  और अचानक अलकनंदा नदी पर बनी झील में छलांग लगाकर आत्महत्या कर दी।  जानकारी के मुताबिक उक्त व्यक्ति मानसिक रूप से परेशान था। बताया जा रहा है कि   युवक का नाम महेन्द्र बुटोला पुत्र सते सिंह बुटोला ग्राम बस्ता तिमली अगस्त्यमुनि रुद्रप्रयाग का रहने वाला है। 


रूद्रप्रयाग का रहने वाले इस युवक ने अचानक जीप से उतरकर अलकनंदा नदी में छलांग के वाक्ये से सब हैरान हैं। एसडीआरएफ और श्रीनगर कोतवाली के गोताखोरों ने झील में उक्त व्यक्ति की तलाश की, लेकिन देर शाम तक उसका पता नहीं चल सका। 


बताया जा रहा है कि व्यक्ति द्वारा पीठ में बैग लगाए हुए था। नदी में छलांग मारने पर उसका बैग नदी में काफी देर तक तैरता रहा, किंतु थोड़ी देर बाद व्यक्ति बैग के साथ नदी की झील में डूब गया।  जल पुलिस ने राफ्ट के माध्यम से व्यक्ति का झील में काफी खोजबीन की, किंतु उसका कोई पता नहीं चल पाया। कोतवाल मनोज रतूड़ी ने बताया कि उक्त व्यक्ति मानसिक रूप से परेशान था। टैक्सी चालक और जीप में बैठे अन्य व्यक्तियों ने पुलिस को बताया कि ऋषिकेश में इस व्यक्ति को उसके भाई ने टैक्सी में बैठाकर कहा था कि इसे अगस्त्यमुनि में उनके गांव के संजू ड्राइवर से मिलवा दे। वह इसे गांव ले जाएगा।