बसुकेदार के कई गांवों में पेयजल का हाहाकार, बूँद बूँद पानी को मौहताज ग्रामीण



बसुकेदार के कई गांवों में पेयजल का हाहाकार, बूँद बूँद पानी को मौहताज ग्रामीण 

-भानु भट्ट/केदारखण्ड एक्सप्रेस 

बसुकेदार। यहाँ क्षेत्र के कहीं गांव में बरसात खत्म होते ही  पेयजल का संकट गहराने लगा है  आलम यह है  कि ग्रामीण बूंद-बूंद पानी को मोहताज है।


घगासु कौशलपुर बसुकेदार पेयजल लाइन सूखी पड़ी है। ग्रामीणों का आरोप है जल संस्थान हर वर्ष पेयजल लाइन के मेंटेनेंस के नाम पर लाखों रुपयों के बारे में अरे तो पड़ता है लेकिन ग्रामीणों को बूंद भर पानी नहीं मिल पाता है। इसकी शिकायत लगातार ग्रामीण विभाग से करते आ रहे हैं लेकिन विभागीय अधिकारी और ठेकेदारों के गठजोड़ का ध्यान कमीशन पर ज्यादा रहता है ऐसे में जनता को पेयजल के बिना भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।


 ग्रामीण कई किमी दूर से पानी ढोबे को मजबूर हैं। स्थिति यह है छोटे-छोटे बच्चों और महिलाओं की ड्यूटी तो दिन भर पानी लेने पर लगी रहती है। ग्रामीणों ने कहा कि विभाग पर जल्द पेयजल योजना को ठीक कर ग्रामीणों को पानी मुहैया नहीं करवाता है तो आने वाले दिनों में बड़ा आंदोलन किया जाएगा।

बसुकेदार के कई गांवों में पेयजल का हाहाकार, बूँद बूँद पानी को मौहताज ग्रामीण बसुकेदार के कई गांवों में पेयजल का हाहाकार, बूँद बूँद पानी को मौहताज ग्रामीण Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on October 09, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.