Breaking News

Thursday, 15 October 2020

भाजपा से संजय शर्मा दरमोड़ा ने की विधायक की दावेदारी, रूद्रप्रप्रयाग भाजपा संगठन बेखबर


 

भाजपा से संजय शर्मा दरमोड़ा ने की विधायक की दावेदारी, रूद्रप्रप्रयाग भाजपा संगठन बेखबर 

-कुलदीप राणा आजाद/केदारखण्ड एक्सप्रेस

रूद्रप्रयाग। आगामी विधान सभा 2022 के चुनावों को लेकर अब राजनीतिक उठापटक शुरू हो गई है। राजनीति के खिलाड़ी फिर से अपने भाग्य अजमाने के लिए चुनावी मैदान में दौड़ लगाने की होड़ में हैं लेकिन इस सबके बीच नये चेहरों की एट्री पहले से स्थापित दावेदारों में खलबली मचा रही है। पार्टीयों के पुराने कार्यकताओं, दावेदारों और पार्टी संगठनों में विद्रोह की स्थिति पैदा हो रही है। रूद्रप्रयाग जनपद की केदारनाथ विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी की ओर से दिल्ली हाईकोर्ट में वकालत कर रहे संजय शर्मा दरमोड़ा ने एकाएक विधायक के लिए दावेदारी पेश की है। वे इन दिनों भाजपा पार्टी के कार्यक्रमांे और पदाधिकारियों  से भी मिल रहे हैं लेकिन भारतीय जनता पार्टी संगठन इस सब से बेखबर बनता नजर आ रहा है।

रूद्रप्रयाग की राजनीति में अक्सर नये चेहरों की एट्री होती रही है। हालांकि संजय शर्मा दरमोड़ा मूल रूप से रूद्रप्रयाग जनपद के विकासखण्ड अगस्त्यमुनि के दरम्वाड़ी गांव के निवासी हैं लेकिन वे सालों से दिल्ली में ही रहते हैं और वर्तमान में दिल्ली हाईकोर्ट में वकालत कर रहे हैं। कुछ समय से वे हंस फाउण्डेशन के प्रतिनिधि के रूप में रूद्रप्रयाग जनपद में सक्रिय नजर आ रहे हैं। हंस फाउण्डेशन द्वारा गरीब जरूरतमंद लोगों को दी गई सामग्री को भी संजय शर्मा द्वारा ही वितरित किया जा रहा है। फाउण्डेशन के सामाजिक कार्यों से सक्रिय हुए संजय शर्मा रूद्रप्रयाग में अपनी राजनीतिक जमीन तैयार कर रहे हैं यह कयास पहले से लगाये जा रहे थे। लेकिन वे भारतीय जनता पार्टी से दावेदारी पेश करेंगे इसका अनुमान नहीं था। रूद्रप्रयाग में बीते रोज उन्होंने प्रेस से मुखातिब होकर यह जानकारी साझा की कि वे भाजपा से केदारनाथ विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने जा रहे हैं। लेकिन ताजुब है कि इस बात की जानकारी भाजपा के जिला संगठन को नहीं है। 


तल्लानागपुर मंडल की बैठक में बिना पूर्व अनुमति शामिल हुए संजय शर्मा, बेखबर संगठन



बुधबार 14 अक्टूबर को भारतीय जनता पार्टी की तत्लानागपुर मण्डल की बैठक थी। सूत्रों की मानें तो संजय शर्मा दरमोड़ा बैठक में बिना किसी अनुमति व सूचना के यहां पहुँचे। हालांकि इसमें किसी भी भाजपा पदाधिकारियों की आपत्ति नहीं थी।  बल्कि तल्लानागपुर मण्डल अध्यक्ष गम्भीर बिष्ट, भाजपा प्रदेश कार्यकारणी सदस्य विजय कप्रवाण, मीडिया प्रभारी सतेन्द्र बत्र्वाल, भाजपा नेता विजय जमलोकी सहित कई पदाधिकारियों ने संजय शर्मा दरमोड़ा का माल्यार्पण कर उनकी जोरदार आगवानी की। लेकिन इसके इतर दूरभाष पर जब भाजपा के जिलाध्यक्ष दिनेश उनियाल से इस संबंध में जानकारी ली तो उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि उन्हें इस संबंध में कोई जानकारी नहीं है और मण्डल की बैठक में उन्हें पूर्व अनुमति नहीं थी। दूसरी तरफ भाजपा नेता विजय जमलोकी द्वारा संजय शर्मा के बैठक में शामिल होने की जानकारी फेेसबुक कपर

 साझा की गई। जबकि भाजपा में संयज शर्मा दरमोड़ा की सदस्यता है इस बात की जानकारी भी जिलाध्यक्ष को नही है। ऐसे में एक बात तो स्पष्ट होता है कि भाजपा के भीतर संजय शर्मा की एंट्री से खलबली मची हुई है। वहीं पार्टी के पाधिकारियों का एक धड़ा संजय शर्मा के साथ होने से भी पार्टी धड़ों में बटी नजर आ रही है। 

हालांकि संजय शर्मा दरमोड़ा से हुई वार्ता में उन्होंने स्पष्ट किया कि वे केदारनाथ विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी से विधायक की दावेदारी कर रहे हैं। ऐसे में संगठन और संजय शर्मा के बीच की खाई निकट भविष्य में भरी जायेगी या दरमोड़ा की एंट्री से विद्रोह की स्थिति पैदा होगी यह भविष्य के गर्भ में है।   


Adbox