जिला चिकित्सालय गोपेश्वर में नेत्र विभाग में चल रही है नेत्र सहायक की दुकानदारी : चश्मे का व्यापार हो रहा अस्पताल में, जिम्मेदार अधिकारी बैठे हैं मौन

अस्पताल के अंदर इस तरह से चश्मा की हो रही दुकानदारी

जिला चिकित्सालय गोपेश्वर में नेत्र विभाग में चल रही है नेत्र सहायक की दुकानदारी : चश्मे का व्यापार हो रहा अस्पताल में, जिम्मेदार अधिकारी बैठे हैं मौन



भूपेंद्र नेगी/केदारखण्ड एक्सप्रेस
चमोली। सीमांत जनपद चमोली में सरकारी डॉक्टर ने चिकित्सालय को अपनी दुकानदारी का अड्डा बना रखा है।  जनपद के मुख्यालय गोपेश्वर में जिला चिकित्सालय अस्पताल  के नेत्र विभाग में नेत्र सहायक विपिन कुमार जमकर चश्मों की दुकान चला रहे हैं। लेकिन अस्पताल प्रबंधन सब कुछ जानते हुए भी मौन साधे बैठे हैं जबकि मुख्य चिकित्सा अधिकारी को शिकायत करने के बाद भी वे लिखित शिकायत का इंतजार कर रहे हैं ऐसे में जाहिर है कि इस अराजकता पर कार्यवाही की उम्मीद क्या की जाए।





दरअसल जिला चिकित्सालय गोपेश्वर अस्पताल में दूर दराज गांवों के लोग जब नेत्र परीक्षण  कराने आते हैं तो नेत्र सहायक विपिन कुमार नेत्र परीक्षण  कर उन्हें ये सलाह देते हैं कि आप चश्मा हमारे पास बना सकते हैं और इस बहाने गांवों के भोले-भाले लोगों से खूब रुपए ऐंठते हैं। विपिन कुमार के नेत्र जांच कक्ष में एक लॉकर में बहुत सारे फ्रेम रखे हैं और नेत्र जांच वालों को फ्रेम दिखाकर मनपसंद के चश्मे बेचते हैं। जब विपिन कुमार से यह पूछा गया कि  यह अवैध है और सरकारी अस्पताल में इस तरह की दुकानदारी नहीं की जा सकती है  तो विपिन कुमार बेखौफ जवाब देते हैं कि हां इल्लीगल है। जब दूसरा सवाल इनसे यह पूछा गया कि वे यह कार्य क्यों कर रहे है? तो विपिन कुमार ने जवाब दिया मैं घर पर चश्मा बनाता हूं और यहां पर बेचता हूं। आखिर विपिन कुमार इतने बेखौफ क्यों है और उन्हें अस्पताल में यह दुकानदारी करने की इजाजत किसने दी? यह भी अपने आप में एक सवाल है।





एक ओर लॉकडाउन के कारण जहां अच्छे खासे प्राइवेट आई केयर सेंटर वाले ग्राहकों को देखने के लिए तरस रहे हैं वहीं दूसरी ओर नेत्र सहायक विपिन कुमार जिला चिकित्सालय गोपेश्वर की आड़ में खुलकर गैर कानूनी धंधा कर रहे हैं। इस संबंध में जब मुख्य चिकित्सा अधिकारी गुमान सिंह राणा से बात  हुई तो उन्होंने बताया यदि लिखित रूप से हमें कोई शिकायत मिलती है तो जांच कर उचित कार्रवाई की जाएगी।




जिला चिकित्सालय गोपेश्वर में नेत्र विभाग में चल रही है नेत्र सहायक की दुकानदारी : चश्मे का व्यापार हो रहा अस्पताल में, जिम्मेदार अधिकारी बैठे हैं मौन जिला चिकित्सालय गोपेश्वर में नेत्र विभाग में चल रही है नेत्र सहायक की दुकानदारी : चश्मे का व्यापार हो रहा अस्पताल में, जिम्मेदार अधिकारी बैठे हैं मौन Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on July 07, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.