प्रोटोकॉल को लेकर विधायक और जि0 पं0 अध्यक्ष के बीच हुई तकरार अब सोशल मीडिया में विपक्षियों ने ली आडे हाथ


प्रोटोकॉल को लेकर विधायक  और जि0 पं0 अध्यक्ष के बीच हुई तकरार अब सोशल मीडिया  में विपक्षियों  ने ली आडे हाथ 

-कुलदीप राणा आजाद/केदारखण्ड एक्सप्रेस 
रूद्रप्रयाग। रूद्रप्रयाग में आज जनपद प्रभारी मंत्री डॉ धन सिंह रावत ने जिला कार्यालय में जिला खनन न्यास निधि की बैठक ली।  बैठक में प्रभारी मंत्री धन सिंह रावत के साथ ही रूद्रप्रयाग विधायक भरत चौधरी, केदारनाथ विधायक मनोज रावत के साथ ही जिला पंचायत अध्यक्ष अरमदेई शाह भी पहुची थी। लेकिन जब बैठक शुरू होने से पूर्व  सभागार में मंत्री धन सिंह के की बगल की कुर्सी में रूद्रप्रयाग विधायक भरत चौधरी बैठ चुके थे, बाद में पहुँची जिला पंचायत अध्यक्ष अमरदेई शाह ने अपने प्रोटोकाॅल के अनुसार मंत्री के बगल में सीट व नेमप्लेट न होने पर अपना गुस्सा व्यक्त करने लगी, बताया जा रहा है कि  जिला पंचायत अध्यक्ष ने अधिकारियों से कहा कि उन्हें बैठक में क्यों बुलाया गया जब उनके प्रोटोकाॅल के अनुसार व्यवस्था नही है। विवाद बढ़ता देख विधायक भरत चौधरी को बैठक में अपनी कुर्सी छोड़ दूसरी कुर्सी में बैठना पड़ा।  बैठक खत्म होने के बाद और गर्मरा गया। रूद्रप्रयाग विधायक भरत चौधरी पूरी घटना से काफी खिन्न दिखें तो केदारनाथ विधायक मनोज रावत ने भी इसे मंत्री के सामने सीनियर विधायक का अपमान करार दिया, भाजपा विधायक भरत चौधरी व केदारनाथ विधायक मनोज रावत दोनों ने इस बात को लेकर कड़ी आपत्ति की है कि खनन न्यास की बैठक में विधायकों के अलावा किसी और को आखिर किसने बुलाया और बिना बैठक में आने के अधिकारी के पहुची जिला पंचायत अध्यक्ष ने पोटोकाॅल के नाम पर विधायक चौधरी का अपमान क्यों किया।





मामले को विपक्षियों ने लिया आडे हाथ 
जब पूरा मामला मीडिया की सुर्खियां बनी तो सोशल मीडिया में बड़ी तेजी से वायरल होने लगी और इसे विपक्षी कांग्रेस ने मुद्दा बनाकर आड़े हाथ ले लिया। यूथ कांग्रेस के जिलाध्यक्ष संतोष रावत ने इस पूरी प्रक्रिया पर ही कहीं सवाल खड़े कर दिए जबकि जिला कांग्रेस कमेटी ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा है की भाजपा के कार्यकर्ताओं को किस प्रोटोकॉल के तहत बैठक में बुलाया गया था? क्या कुछ सवाल उठाए हैं फोटो संलग्न-


पूरे मामले में विधायक भरत सिंह चौधरी ने पहले तो मीडिया को यह बयान दिया कि जिला पंचायत अध्यक्ष को खनन न्यास निधि की बैठक में बुलाया ही नहीं गया था प्रोटोकॉल में कहीं भी उनका नाम नहीं है बावजूद वे बैठक में पहुंच गए लेकिन जब खबर जोर शोर से प्रसारित हुई सोशल मीडिया में तो विधायक भरत सिंह चौधरी ने अपनी टाइमलाइन पर एक स्पष्टीकरण पोस्ट कर दिया जिसमें उन्होंने भले ही उनके और अध्यक्ष के बीच किसी भी तरह का तकरार ना होने की बात लिखी हो लेकिन इस पोस्ट के जरिए उन्होंने बहुत बड़ा तंज भी कस दिया है आप भी पढ़िए क्या लिखा है विधायक भरत सिंह चौधरी ने-

सोशल मीडिया में यह मामला काफी गरमाया हुआ है और जहां कांग्रेसी जिला पंचायत अध्यक्ष का प्रोटोकॉल विधायक से ऊपर बताते हुए कह रहे हैं कि जिला पंचायत अध्यक्ष का अपमान किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं होगा वही विधायक भरत सिंह चौधरी के समर्थक जिला पंचायत अध्यक्ष को जमकर ट्रोल कर रहे हैं। आगामी दिनों में यह मामला क्या रंग लाता है यह तो  भविष्य के गर्भ में है लेकिन रुद्रप्रयाग की शांत राजनीति में भाजपा की इस आपसी कलह ने जरूर विपक्षी कांग्रेस को भाजपा के खिलाफ  बोलने का मुद्दा दे दिया है।






पहले क्या बयान दिए थे-

रूद्रप्रयाग विधायक भरत चौधरी- “खनन न्यास की बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष अपेक्षित नही थी, वो खनन न्यास की सदस्य नही हैं, शायद उन्हें जानकारी नही रही होगी, लेकिन अधिकारियों को इसकी जानकारी दी जानी चाहिए कि किस बैठक में कौन लोग अपेक्षित हैं, मैं विधायक हूं मैं आगे बैठू या पिछे बैठूं मैं विधायक ही माना जाऊगा, मेरे कामों से मेरा आंकलन होगा बैठने से नही..“
केदारनाथ विधायक मनोज रावत- “मंत्री जी के सामने जिला पंचायत अध्यक्ष के कहने पर हमारे वरिष्ट साथी विधायक भरत चौधरी को कुर्सी छोड़कर उठना पड़ा, जबकि खनन न्यास की बैठक में मात्र विधायक ही सदस्य हैं, जिला पंचायत अध्यक्ष उसमें सदस्य नही हैं, ऐसे में एक वरिष्ट विधायक का अपमान करना मेरी समझ से परे है, माननीय मंत्री जी भी विधायक पहले है उन्हें अपने वरिष्ट विधायक का सम्मान बरकरार रखना चाहिए…“
जि0पं0 अध्यक्ष अमरदेई शाह- “मंत्री जी द्वारा ली जा रही बैठक की प्रोटोकाॅल में मेरा नाम सबसे ऊपर था, लेकिन बैठक में मेरे प्रोटोकाॅल की हिसाब से कोई सीट नही थी, मैने इसे लेकर अधिकारियों से आपत्ति की थी, विधायक जी का मैने अपमान नही किया है वो हमारे माननीय विधायक के साथ ही पार्टी के वरिष्ट नेता भी हैं मैं उनका हमेशा से सम्मान करती आई हुं..





प्रोटोकॉल को लेकर विधायक और जि0 पं0 अध्यक्ष के बीच हुई तकरार अब सोशल मीडिया में विपक्षियों ने ली आडे हाथ प्रोटोकॉल को लेकर विधायक  और जि0 पं0 अध्यक्ष के बीच हुई तकरार अब सोशल मीडिया  में विपक्षियों  ने ली आडे हाथ Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on June 02, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.