मासूमों से उनका बचपन छीन रहा है पबजी गेम पढ़ाई को छोड़कर ज्यादा टाइम पबजी गेम में बिता रहे बच्चे


मासूमों से उनका बचपन छीन रहा है पबजी गेम पढ़ाई को छोड़कर ज्यादा टाइम पबजी गेम में बिता रहे बच्चे 

-पारस पंवार/ केदारखंड एक्सप्रेस न्यूज 
सहारनपुर। बच्चे कई -कई घण्टे पबजी गेम को खेलते रहते हैं इसी वजय से उनका शारीरिक ओर मानशिक विकास धीमा हो जाता है ,पबजी गेम में बच्चे में दिन में चार-घण्टे तक इस गेम को खेलते हुए बिताते हैं जिस कारण से वे सामाजिक रूप से कम ही एक्टिव रह जाते है गेम में हथियारों से लैस खिलाड़ी होते हैं जो हिंसक रूप से गेम में खेलते हुए एक दूसरे खिलाड़ी पर हमला करते हुए आगे जीत को ओऱ बढ़ना चाहते हैं।

इसी वजय से बच्चों में हिंसा की प्रवर्ति बढ़ती है बच्चें इस गेम के पात्रों को खुद में महसूस करने लग जातें है और धीरे धीरे से इस गेम को खेलने की लत बच्चे को लग जाती है पबजी गेम ऐसा गेम है जो बच्चों को आदि बना देता है। केदारखंड एक्सप्रेस की अपील क्रप्या बच्चों को ऐसे गेम से दूर रखें ओर अपने को बच्चों को अपने  साथ मे बैठाकर टाइम टेबल की एकॉर्डिंग पढ़ाई की ओर आकर्षित करे।
मासूमों से उनका बचपन छीन रहा है पबजी गेम पढ़ाई को छोड़कर ज्यादा टाइम पबजी गेम में बिता रहे बच्चे मासूमों से उनका बचपन छीन रहा है पबजी गेम पढ़ाई को छोड़कर ज्यादा टाइम पबजी गेम में बिता रहे बच्चे Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on May 14, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.