जब नहीं है गाँवों में नेटवर्क तो ऑनलाइन परीक्षा होगी कैसे?


जब नहीं है गाँवों में नेटवर्क तो ऑनलाइन परीक्षा होगी कैसे?

-नवीन चंदोला/केदारखंड एक्सप्रेस 
थराली।  श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय के अन्तर्गत आने वाले  महाविद्यालयों के N.S.U.I. के पदाधिकारियों द्वारा अपने-अपने उप जिलाधिकारी के माध्यम से उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत को ज्ञापन भेजकर विभिन्न समस्याओं के निराकरण की मांग की। 

कोरोना महामारी में लॉकडॉउन के चलते शिक्षा व्यवस्था में आने वाली समस्याओं को खासकर दूरस्थ गांव में संचार विहीन क्षेत्रों में आने वाले छात्रों की परेशानी की ओर ध्यानाकर्षण किया है। आपको बताते चले कि उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत द्वारा छात्रों को जून माह में ऑनलाइन परीक्षाओं के लिए सचेत कर दिया गया है परंतु जिले की अधिकतर गांव में संचार सुविधा बेहद खस्ताहाल है ऐसे में ऑनलाइन परीक्षा करना छात्रों के लिए बहुत ही कठिन है। ऐसे में अनलाइन परीक्षा छात्र देंगे कैसे?

एनएसयूआई छात्र संगठन द्वारा इस मुद्दे पर पहले भी ध्यान आकर्षित किया गया था और एनएसयूआई छात्र संगठन द्वारा छात्रों को अगली कक्षा में प्रमोट किए जाने पर भी बात रखी गई थी जो कि छात्र हितों के लिए इस महामारी के दौर में एक उचित कदम माना जा सकता है,  इस मौके पर बद्रीनाथ विधानसभा से विपिन फर्स्वाण द्वारा उप जिलाधिकारी चमोली , कर्णप्रयाग विधानसभा से आयुष नेगी तथा थराली विधानसभा से पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष व जिला संयोजक N.S.U.I. द्वारा उप जिलाधिकारी जी के माध्यम से शिक्षा मंत्री को ज्ञापन सौंपा गया।
जब नहीं है गाँवों में नेटवर्क तो ऑनलाइन परीक्षा होगी कैसे? जब नहीं है गाँवों में नेटवर्क तो ऑनलाइन परीक्षा होगी कैसे? Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on May 15, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.