आक्सीजन के लिए अब नहीं लगानी पड़ेगी ऋषिकेश की दौड, रूद्रप्रयाग में ही तैयार होगी आक्सीजन



आक्सीजन के लिए अब नहीं लगानी पड़ेगी ऋषिकेश की दौड, रूद्रप्रयाग में ही तैयार होगी आक्सीजन 

- कुलदीप राणा आजाद/केदारखंड एक्सप्रेस 
रूद्रप्रयाग। सब कुछ योजना के मुताबिक रहा तो आगामी दो माह के भीतर रूद्रप्रयाग जनपद को अपना आॅक्सीजन प्लाॅट मिल जायेगा। जनपद मुख्यालय में जल्द ही आक्सीजन जनरेटर प्लाॅट लगने जा रहा है। इसके लिए मुख्य चिकित्सा विभाग ने पूरी कार्ययोजन तैयार कर ली है।  आक्सीजन जनरेटर प्लांट लगने के साथ ही आॅक्सीजन के लिए ऋषिकेश की दौड़ लगाने से भी छुटकारा मिल जायेगा। 

दरअसल रूद्रप्रयाग में मुख्य चिकित्सा अधिकारी शम्भू कुमार झा के प्रयासों की बदौलत करीब 60 लाख रूपये की लागत से आॅक्सीजन जनरेटर प्लाॅट लगने जा रहा है। कोटेश्वर स्थिति राजकीय माध्यवाश्रम शकराचार्य अस्पताल में इस प्लाॅट को लगाया जा रहा। यहाँ उत्पादित आक्सीजन  को जनपद के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र प्रत्येक बेड पर मुहैया करवाने योजना भी है।  केदारनाथ यात्रा के लिए भी यह काफी मददगार साबित होगा।

आपको बताते चलें कि कोरोना काल के दौरान ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी शम्भू कुमार के अथक प्रयासों से 6 बेड का आईसीयू भी तैयार हो चुका हैं। जहां सेट्रल आॅक्सीजन पद्धति से भी बैड तक आॅक्सीजन की सप्लाई की जा रही है। जबकि अब आॅक्सीजन जनरेटर प्लाॅट से रूद्रप्रयाग के साथ-साथ अन्य पडोसी जिलों को भी आवश्कता पड़ने पर रूद्रप्रयाग जिले में तैयार की गई आॅक्सीजन को दिया जायेगा। वहीं  केदारनाथ की यात्रा 23 किमी पैदल के साथ ही  अत्यधिक ऊँचाई पर होने के कारण न केवल दुर्गम है बल्कि यहां आक्सीजन की भी भारी कमी रहती है, जिस कारण हर वर्ष कई तीर्थ यात्री समय पर आॅसीजन न मिलने से मर जाते हैं। जबकि जिले में दुर्घटनाओं के समय भी आॅक्सीजन की तत्काल आवश्यकता होती है लेकिन जनपद में आॅक्सीजन के लिए ऋषिकेश की दौड़ लगानी पड़ती है। कई बार भूस्खलन और अन्य कारणाों से रास्ता बंद होने से आॅक्सीजन समय पर उपलब्ध नहीं हो पाता है। जबकि दूर होने के कारण किराया भाड़े में भी अधिक पैसा और समय खर्च हो जाता है। ऐसे में जिले को अपना आॅक्सीजन प्लाॅट मिलना अपने आप में बड़ी उपलब्धि होगी। 

रूद्रप्रयाग के मुख्य चिकित्सा अधिकारी शम्भु कुमार झा ने बताया कि आक्सीजन जनरेटर प्लांट करीब दो माह में बनकर तैयार हो जायेगा। इसके लिए आक्सीजन सिलेंडर समेत कई अन्य उपकरण पहुंच चुके हैं। यह प्लांट जिले के लिए किसी उपलब्धि से कम नहीं है।
आक्सीजन के लिए अब नहीं लगानी पड़ेगी ऋषिकेश की दौड, रूद्रप्रयाग में ही तैयार होगी आक्सीजन आक्सीजन के लिए अब नहीं लगानी पड़ेगी ऋषिकेश की दौड, रूद्रप्रयाग में ही तैयार होगी आक्सीजन Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on May 17, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.