सब इंस्पेक्टर विजय प्रताप राई की दरियादिली, गुप-चुप कर रहे मानवता की सेवा

बीमार विनोद राणा को सहयोग राशि प्रदान करते सब इंस्पेक्टर विजय प्रताप राई 
सब इंस्पेक्टर विजय प्रताप राई की दरियादिली, गुप-चुप कर रहे मानवता की सेवा 
सिरोबगड बैरियल पर मुसाफिरों को खाना देते विजय प्रताप 

-कुलदीप राणा आज़ाद/केदारखंड एक्सप्रेस 
रूद्रप्रयाग। वैश्विक महामारी के संकटकाल  में  वैसे तो जनपद रूद्रप्रयाग की पुलिस का मानवतावादी चेहरा अक्सर मीडिया की सुर्खियों में आपने देखा ही होगा, लेकिन इसी पुलिस विभाग का एक जाबांज आफिसर ऐसा भी है जो चुपचाप न केवल अर्थिक रूप से गरीबों के आँसू पोंछ रहे हैं बल्कि कोरोना लाकडाउन के कारण भूखे राहगीरों को भी अपने पैसों से भोजन करवा रहे हैं। ये और कोई नहीं बल्कि रूद्रप्रयाग में तैनात सब इंस्पेक्टर विजय प्रताप राई हैं। ड्यूटी के साथ- साथ मानव सेवा कर पुलिस डिपार्टमेंट और जनपद का नाम रोशन करने में लगे हैं।  





केदारखंड एक्सप्रेस न्यूज ने इसी माह 8 मई को अगस्त्यमुनि विकासखण्ङ के कमेडा गाँव के विनोद राणा की  लाचारी और बेबसी की खबर प्रकाशित की थी। खबर को पढने के बाद सब इंस्पेक्टर विजय प्रताप राई ने केदारखंड एक्सप्रेस से सम्पर्क कर इस परिवार की पूरी जानकारी ली। इसके बाद वे कमेडा गाँव में इस परिवार के घर पहुचे और न केवल परिवार की कुशलक्षेम पूछी बल्कि 5 हजार रूपये  की मदद भी की और परिवार को इस संकट की घडी में धैर्य और हिम्मत बनाये रखने को कहा। पीडित परिवार को इंस्पेक्टर विजय प्रताप द्वारा आश्वस्त किया गया कि भविष्य में भी वे उनकी मदद के लिए कार्य करते रहेंगे। विजय प्रताप की इस दिलेरी और मदद के लिए विनोद की बूढी मां के आँखों में आँसू थे और आर्शीवाद के हाथ आगे खडे थे।





आपको बताते चले कि रूद्रप्रयाग पुलिस में तैनात सब इंस्पेक्टर विजय प्रताप की दिलेरी केवल यही खत्म नहीं होती है बल्कि इससे पूर्व से ही वे कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के इस संकटकाल में अपनी ड्यूटी के साथ-साथ  गुप-चुप तरीके से पीड़ितों की मदद भी कर रहे हैं। दरअसल लाकडाउन की अवधि में विजय प्रताप की रात्रि ड्यूटी सिरोबगड बैरियल पर लगी है जो जनपद का प्रवेश द्वार भी है। यहाँ पर ड्यूटी करने वाले सभी कार्मिकों की सबसे महत्वपूर्ण जिम्मेदारी तो है ही बल्कि अधिक कार्य भी है। क्योंकि यहाँ से जनपद की सीमा में प्रवेश करने वाले हर एक व्यक्ति कि उपस्थिति दर्ज  करने के साथ स्वास्थ्य जांच भी की जाती है । जबकि कोरोना संक्रमण का रिश्क भी अधिक है। ऐसे में सब इंस्पेक्टर विजय प्रताप राई न केवल अपनी ड्यूटी को बखूबी कर रहे हैं बल्कि अपने पैसों से पिछले छ दिनों से लगातार यहाँ से गुजरने वाले हर एक भूखे राहगीरों  को भोजन भी मुहैया करवा रहे हैं। इन दिनों  यहाँ से हर रोज रात्रि के समय  सैकड़ों लोग भूखे-प्यासे आ रहे हैं ऐसे में पुलिस के इस जवान द्वारा इन्हें भोजन उपलब्ध कराना उन्हें नया जीवन देना जैसा है। विजय प्रताप राई की सेवाभाव व कर्तव्य निष्ठा का यह अनुपम उदाहरण हम सबके लिए वाकई में प्रेरणा है। ऐसे जवान को सैल्यूट तो बनता है।
सामाजिक कार्यकर्ता भूपेन्द्र नेगी ने कहा कि रूद्रप्रयाग  पुलिस विभाग में विजय प्रताप का यह कार्य सराहनीय है। गरीबों और पीडितो के प्रति न केवल संवेदना बल्कि उनकी मदद के लिए हर समय कार्य करना काबिले-तारीफ है। 




सब इंस्पेक्टर विजय प्रताप राई की दरियादिली, गुप-चुप कर रहे मानवता की सेवा सब इंस्पेक्टर विजय प्रताप राई की दरियादिली, गुप-चुप कर रहे मानवता की सेवा Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on May 17, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.