बाबा की पंचमुखी उत्सव डोली कैलाश धाम के लिए रवाना, पहली बार गाडी में विदा हुई डोली


बाबा की पंचमुखी उत्सव डोली कैलाश धाम के लिए रवाना, पहली बार गाडी में विदा हुई डोली 
-लक्ष्मण सिंह नेगी/केदारखंड एक्सप्रेस 
उखीमठ। ग्यारहवें ज्योतिर्लिंग बाबा केदारनाथ की चल विग्रह पंचमुखी उत्सव डोली आज अपने शीतकालीन प्रवास से केदारनाथ धाम के लिए रवाना हो गई है कोविड-19 के चलते सुरक्षा की दृष्टि से इस बार बाबा की डोली ओमकारेश्वर मंदिर से गौरीकुंड तक गाड़ी में रवाना हुई।
कोरोना महामारी के संक्रमण से बचाव के लिए देशभर में बीते 24 मार्च से लॉकडाउन है। जिसके चलते सामाजिक दूरी के पालन को ध्यान में रखते हुए इस वर्ष केदारनाथ यात्रा का संचालन केवल और केवल धार्मिक परंपराओं  के निर्वहन के लिए हो रही है। यही कारण है कि इस बार बाबा की डोली के धाम प्रस्थान से लेकर  कपाटोद्घाटन समारोह में गिनती के लोग ही शामिल हो सकेंगे।
प्रशासन के निर्देशो के मुताबिक डोली के साथ प्रात पुजारी और वेदपाठी ही शामिल रहे, किसी भी तरह के स्थानीय लोगों और हकहकूधारियों को बाबा की डोली के साथ चलने की अनुमति नही है, पूरी सुरक्षा ब्यवस्था के बीच डोली जब ऊखीमठ से अपने धाम को रवाना हुई तो महज लोग अपने घरों की छतों, आंगन और तिवारियों से ही आशीर्वाद लेने के लिए खड़े थे।
बाबा केदार की पंचमुखी चलविग्रह उत्सव डोली आज प्रथम रात्रि प्रवास के लिए बाबा की डोली गौरामाई मंदिर गौरीकुण्ड में पहुंचेगी व द्वितीय रात्रि प्रवास 27 अप्रैल को भीमबली मे करेगी, 28 अप्रैल को उत्सव डोली केदारनाथ धाम पहुंचेगी। जहां अगले दिन 29 अप्रैल को प्रात 6 बजकर 10 मिनट पर मेष लग्न मे वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ बाबा केदारनाथ मंदिर के कपाट खोले जायेंगे।

बाबा की पंचमुखी उत्सव डोली कैलाश धाम के लिए रवाना, पहली बार गाडी में विदा हुई डोली बाबा की पंचमुखी उत्सव डोली कैलाश धाम के लिए रवाना, पहली बार गाडी में विदा हुई डोली Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on April 25, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.