Breaking News

Saturday, 18 April 2020

गैस भरवाने आये लोगों ने नियमों की उड़ाई धज्जियां, डीएम ने मांगा जिम्मेदार अधिकारियों से स्पष्टीकरण


गैस भरवाने आये लोगों ने नियमों  की उड़ाई धज्जियां,  डीएम ने मांगा जिम्मेदार अधिकारियों से स्पष्टीकरण 
-भूपेन्द्र भण्डारी/केदारखंड एक्सप्रेस 

रूद्रप्रयाग। लाक डाउन के नियमों को तोड़ते हुए लोग मचाते रहे भगदड़ और पुलिस प्रशासन पूरे वाकये से बेखबर नजर आया। सोशल मीडिया में इस लापरवाही की तस्वीरें वायरल हुई तो आनन-फानन में जिलाधिकारी मंगेश घिल्ङियाल ने जिम्मेदार अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांग लिया।
मामला रुद्रप्रयाग जिला मुख्यालय का  है जहाँ आज सोशल डिस्टेंस की खुले आम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। यहां लॉक डाउन के नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है और यह सब पुलिस के जवानों की मौजूदगी में हो रहा है। भले ही अभी रुद्रप्रयाग में कोरोना संक्रमण का एक भी मामला नहीं आया है, लेकिन सरकार के नियमों के आगे सबको सतर्क रहने की जरूरत है।
दरअसल, आज सुबह रुद्रप्रयाग जिला मुख्यालय के नए बस अड्डे पर घरेलू गैस सिलेंडर का वितरण किया गया। इस दौरान गैस लेने के लिए पहुंची जनता में कुछ समय के लिए भगदड़ मच गयी। लॉक डाउन के सारे नियमों को तोड़ते हुए एक साथ जनता की भारी भीड़ उमड़ पड़ी और किसी ने भी सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं किया। मौके पर मौजूद लोगों की माने तो बाद में पुलिस के जवानों ने जनता के बीच दूरी बनाई और हल्का बल प्रयोग भी किया। हालांकि इसके बावजूद भी बाद में भीड़ जमा रही और स्थिति जस की तस रही। जागरूक लोगों का कहना है कि कुछ लोग सोशल डिस्टेंस को समझने को तैयार नहीं है। देश के 
प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री और शासन व प्रशासन सोशल डिस्टेंस बनाकर रहने की बात लगातार कर रहे हैं, बावजूद इसके  कुछ लोग समझने को तैयार नहीं है। ऐसे लोगों के खिलाफ कार्यवाही होनी चाहिए। लेकिन बडी बात यह है कि मौके कोई भी सरकारी नुमाइंदा इन्हे समझाने वाला था। यह खबर सोशल मीडिया में फैली तो जिलाधिकारी मंगेश घिल्ङियाल ने मामले गम्भीरता को समझा और उन्होंने रुद्रप्रयाग में गैस वितरण के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन न होने पर एसडीएम, जिला पूर्ति अधिकारी, कोतवाली प्रभारी निरीक्षक, सेक्टर अधिकारी से लिखित में स्पष्टीकरण मांगा है।
Adbox