भारी बारिश और ओलावृष्टि से किसानों की गेहूं की पकी फसल चौपट


भारी बारिश  और ओलावृष्टि से किसानों की गेहूं की  पकी फसल चौपट 
-डेक्स :  केदारखंड एक्सप्रेस न्यूज 

रूद्रप्रयाग। किसानों को इन दिनों दोहरी मार झेलने के लिए विवश होना पड रहा है। एक तरफ कोरोना की महामारी से लोगों का रोजगार ठप्प पडा है तो वहीं बीती रात को भारी बारिश  एवं  ओलावृष्टि के कारण बच्णस्यू क्षेत्र के दर्जनों गांव में गेहूं मटर के साथ ही अन्य साग सब्जी की फसलें चौपट हो गई है। इन दिनों दोपहर बाद अचानक मौसम करवट ले रहा है जिस कारण आंधी तूफान के साथ ही भारी बारिश के बीच ओलावृष्टि हो रही है। बड़े-बड़े ओले के गोले पढ़ने से किसानों की जहां पकी फसल बर्बाद हो गई है वही साग सब्जी भी पूरी तरह से नष्ट हो गई है ऐसे में किसान भारी निराश और हताश है।


बचणस्यू पट्टी के बणगांव, बणसो, सकरौडी, झूडोली, धारकोट, भराड़ीसेण  आदि गांवों में बीती रात को हुई भारी ओलावृष्टि से गेहूं ,जौ, मटर ,आलू ,प्याज, माल्टा, अखरोट, मलका, मसूर आदि फसलो को भारी नुकसान हुआ है। क्षेत्रवासियों ने  है प्रशासन से  मुआवजा की मांग है। सुरेंद्र जोशी मंडल अध्यक्ष भाजपा रुद्रप्रयाग ,शशि नेगी कनिष्ठ प्रमुख क्षेत्र पंचायत मंदाकिनी, प्रधान बणसों किरण बिष्ट, प्रधान बणगांव रोशनी देवी ने काश्तकारों को हुए नुकसान की भरपाई के लिए तुरंत मुआवजे की मांग की है।

भारी बारिश और ओलावृष्टि से किसानों की गेहूं की पकी फसल चौपट भारी बारिश  और ओलावृष्टि से किसानों की गेहूं की  पकी फसल चौपट Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on April 20, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.