Breaking News

Saturday, 14 March 2020

गैरसैंण के युवक की नारायणबगड में निर्मम हत्या : दोस्त गिरफ्तार

गैरसैंण के युवक की नारायणबगड में निर्मम हत्या : दोस्त गिरफ्तार 

-सन्दीप बर्तवाल/केदारखंड एक्सप्रेस न्यूज । 

चमोली जिले से एक सनसनीखेज़ खबर प्रकाश में आ रहीं है जहाँ एक युवक की निर्मम हत्या कर शव के टुकड़े-टुकड़े जमीन में गाड़ दिया। 

जानकारी के मुताबिक नारायणबगड़ विकासखण्ड के गंडीक गांव में कल शाम को डंपिंग जोन के मलबे में युवक का  क्षत विक्षत अवस्था मे शव दफनाया मिला है , पुलिस ने बताया कि शव को टुकड़ो में काटा गया है।  शव की पहचान  गैरसैंण विकासखण्ड के कलविष्ट सेरा (सरिंगगांव) निवासी रंजीत बिष्ट पुत्र श्याम सिंह बिष्ट के रूप में हुई है।

बताया जा रहा है कि रंजीत  6 मार्च से लापता चल रहा था जिसकी   गुमशुदगी की रिपोर्ट उनके ससुर ने थराली के थाने में दर्ज कराई थी, पुलिस को दी गयी तहरीर में उनके ससुर ने बताया था कि उनका दामाद जो कि नलगांव नारायणबगड़ में उखीमठ रुद्रप्रयाग निवासी ठेकेदार कैलाश थपलियाल के साथ ड्राइविंग का कार्य करता था, चालक के स्वजनों के पूछने पर ठेकेदार सहित सड़क मार्ग पर कार्य करने वाले अन्य लोगों ने रणजीत के घर जाने की बात कही थी। उसी दिन से रणजीत का मोबाइल भी बंद था।





रंजीत की पत्नी प्रियंका देवी ने बताया कि  6 मार्च की रात्रि 10 बजे  को फोन पर उनकी रंजीत से बात हुई थी। उन्होंने बताया था कि  होली के दौरान घर आएगा लेकिन अगले ही दिन 7 मार्च से रंजीत का फोन लगातार स्विच ऑफ आ रहा था और न ही रंजीत होली में घर पहुंचा ,इतने दिन से रंजीत का कोई पता नही लगने की वजह से गुमशुदा रंजीत के परिजनों ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करायी जिसके बाद पुलिस खोजबीन कर ही रही थी।
नारायणबगड  गंडीक गांव में शुक्रवार दोपहर पुलिस ने युवक के साथ काम करने वाले अन्य लोगो से पूछताछ की तो सूत्रों के अनुसार पूछताछ में युवक के साथियों ने लापता रंजीत की हत्या कर मिट्टी के नीचे दबाने की बात कबूली, घटनास्थल राजस्व क्षेत्र में होने के चलते राजस्व टीम भी घटनास्थल को पहुंच गई जिसके बाद मौके से 3 तीन संदिग्ध लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया, राजस्व टीम ने शव को मिट्टी खोदकर कई घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद
Adbox