Breaking News

Friday, 6 March 2020

जिला पंचायत अध्यक्ष के दबंग स्टाइल पर आक्रोशित हुए चिकित्सक समाज: पुतला दहन किया दहन

जिला पंचायत अध्यक्ष के दबंग स्टाइल पर आक्रोशित हुए चिकित्सक समाज: पुतला दहन किया दहन

-भूपेन्द्र भण्डारी/केदारखण्ड एक्सप्रेस
रूद्रप्रयाग। बीते रोज जिला पंचायत अध्यक्ष अमरदेई शाह द्वारा जिला चिकित्सालय रूद्रप्रयाग में वरिष्ठ जिला चिकित्सा अधिकारी दिनेश चन्द्र्र सेमवाल के साथ अभद्र व्यवहार का वीडियों जैसे ही सोशल मीडिया में वायरल हुआ तो पूरे जिला चिकित्सालय के डाॅक्टर-कर्मचायिों में भारी आक्रोशित पनपने लगा। आक्रोश की आग इतनी अधिक थी कि आज चिकित्सालय के सभी कर्मचारियों ने एकजुुटता के साथ सड़कों पर उतर कर जिला ंपंचायत अध्यक्ष अमरदेई शाह के दबंग स्टाइल पर उसका पुतला दहन कर दिया।

दरअसल पूरा मामले की शुरूआत कल दोपह से शुरू हुई। कहा जा रहा है कि सारी की जिला पंचायत सदस्य सरिता देवी के क्षेत्र का एक मरीज जिला चिकित्सालय में बीते 27 फरवरी से भर्ती था जिसका पैर फैक्चर था और आॅपरेशन होना था। लेकिन जब आॅॅॅपरेशन न हुआ तो कल दोपहर सारी की जिला पंचायत सदस्य सरिता देवी के साथ जिला पंचायत अध्यक्ष अमरदेई शाह जिला चिकित्सालय रूद्रप्रयाग में दबंग स्टाइल में पहुँच गई। जिला पंचायत अध्यक्ष और सदस्य जैसे ही संबंधित मरीज के वार्ड में पहुँचे तो वैसे ही उन्होंने डाॅक्टरों के साथ ही सीएमएस को बुला दिया। सीएमएस को आने में थोड़ा देर हुई तो जिला पंचायत अध्यक्ष का पारा और अधिक गरम हो गया। उसके बाद जो कुछ हुआ वह पूरे जनपद ने देखा। अध्यक्ष अमरदेई शाह ने जिस लहजे में वरिष्ठ सीएमएस से बात की उसे कोई भी सही नहीं ठहरा रहा है। लगे हाथ नौकरी छोड़ने तक की नसीहत दे डाली। जबकि बताया जा रहा है कि जिला पंचायत अध्यक्ष के गन्नर ने भी सीएमएस को धमका दिया। देखिए वीडियो- पहले क्या हुआ और फिर बबाल

अध्यक्ष की इस दबंगई को हाईलाइट करने के लिए अध्यक्ष के किसी कार्यकर्ता ने इस पूरे मामले को अपने कैमरे में कैद कर दिया और सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। इस पूरे मामले से चिकित्सा समाज के लोगों में जहां भारी आक्रोश कल रात से ही पनपने लगा। आज आज रूद्रप्रयाग के चिकित्सालय के डाॅक्टर कर्मचारियों ने जिला पंचायत अध्यक्ष अमरदेई शाह के खिलाफ मुर्दाबाद के नारों के साथ आक्रोशित रैली निकाली और रूद्रप्रयाग me पुतला दहन कर दिया। इससे पूर्व अस्पताल के सभी डाॅक्टरों के एक शिष्टमंडल ने जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल को एक ज्ञापन सौंपकर कहा कि इस मामले का तत्काल निस्तारा किया जाय और जिला पंचायत अध्यक्ष को सीएमएस से माफी मागनी की बात कही। जबकि एक ज्ञापन पुलिस अधीकक्षक को भी सौंपा जिस पर अध्यक्ष के गन्नर द्वारा की गई अभद्रता के खिलाफ कार्यवाही की मांग की गई। 


दरअसल अस्पताल प्रबन्धन का कहना है कि जिस मरीज को लेकर जिला पंचायत अध्यक्ष ने इतना हंगामा खड़ा किया वह 27 फरवरी को जिला चिकित्सालय में भर्ती हुआ था। पैर फैक्चर होने के कारण उसका आॅपरेशन किया जाना था। 28 फरवरी को ब्लड़ टेस्ट हुआ जिसकी रिपोर्ट 29 फरवरी को आई। दो मार्च को आॅपरेशन के लिए हल्द्वानी से सामग्री मँगाई गई लेकिन आॅपरेशन का सामान न पहुँचने से आॅपरेशन करने में देर हो गई। 

अभी पूरे में मामले में जहां चिकित्सा समाज में आक्रोश है वहीं सोशल मीडिया में भी खूब राजनीति हो रहे हैं। एक पक्ष अमरदेई शाह के पक्ष में टिप्पणियां कर रहे हैं तो दूसरा पक्ष चिकित्सकों के पक्ष। आने वाले दिनों में यह मामला क्या मोड़ लेता है देखना बाकि है।