Breaking News

Wednesday, 11 March 2020

पॉजिटिव न्यूज़ : वन आरक्षी विद्या रावत ने स्वर्ण पदक जीत कर बढ़ाया उत्तराखंड का गौरव

पॉजिटिव न्यूज़ : वन आरक्षी विद्या  रावत ने  स्वर्ण पदक जीत कर बढ़ाया उत्तराखंड का गौरव

- केदारखंड एक्सप्रेस न्यूज 
अगस्त्यमुनि। अगस्त्यमुनि रैंज में वन आरक्षी के पद पर नियुक्त विद्या रावत ने 25 वीं अखिल भारतीय फोरेस्ट स्पोर्ट्स मीट 2020 में भारोत्तोलन प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतकर न केवल जनपद का बल्कि उत्तराखण्ड का नाम रोशन किया है। विद्या रावत के स्वर्ण पदक जीतने पर न केवल वन विभाग में बल्कि पूरे जनपद में खुशी की लहर दौड़ पड़ी है।

अगस्त्यमुनि रैंज की राजि अधिकारी आलोकी ने बताया कि वन विभाग की अखिल भारतीय स्तर की प्रतियोगिता इस वर्ष 03 से 07 मार्च तक उड़ीसा के भुवनेश्वर में आयोजित हुई थी। जिसमें वन आरक्षी विद्या रावत ने भारोत्तोलन के 84 किग्रा भार वर्ग की प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक हासिल किया। विद्या रावत इससे पूर्व इसी प्रतियोगिता में लगातार दो वर्ष राष्ट्रीय स्तर पर स्वर्ण से एक कदम दूर रह चुकी है। दोनों बार उन्हें रजत से सन्तोष करना पड़ा था। इस बार उन्होंने प्रतियोगिता से पूर्व हल्द्वानी में एक माह का प्रशिक्षण लिया था। जो उनके काम आया। और उन्होंने इस बार सारी बाधायें लांघते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम किया। विद्या रावत के जनपद पहुंचने पर उनका भव्य स्वागत किया जायेगा। विद्या रावत मूल रूप से अगस्त्यमुनि ब्लाॅक के रूमसी गावं की रहने वाली हैं। उनके पति विजयपाल रावत होटल व्यवसायी हैं। उनके स्वर्ण पदक जीतने पर गांव में भी खुशी का माहौल है।

वहीं कई जनप्रतिनिधियों एवं सामाजिक सरोकारों से जुड़े व्यक्तियों ने खुशी जाहिर करते हुए उन्हें बधाई दी है। बधाई देने वालों में केदारनाथ विधायक मनोज रावत, पूर्व विधायक शैलारानी रावत, आशा नौटियाल, बीकेडीसी के उपाध्यक्ष अशोक खत्री, नपं अध्यक्ष अरूणा बेंजवाल, प्रभागीय वनाधिकारी वैभव कुमार, एसडीओ महिपाल सिंह सिरोही, राजि अधिकारी आलोकी, यशवन्त चैहान, रजनीश लोहारी, सुभाष नौटियाल, राजेन्द्र सिंह नेगी, ब्लाॅक प्रमुख विजया देवी, प्रधान संगठन के पूर्व अध्यक्ष विक्रम नेगी, वर्तमान अध्यक्ष विजयपाल राणा, जिपंस कुलदीप कण्डारी, पूर्व जिपंस अवतार सिंह राणा, दीपा देवी, सुलोचना देवी, रूमसी की प्रधान सुषमा देवी, क्षेपंस सुनील सिंह, उक्रांद के पृथ्वीपाल रावत, मुकेश डोभाल, खेल प्रशिक्षक कमलेश जमलोकी, नागेन्द्र कण्डारी, नवीन बिष्ट, कबड्डी एसोसियेशन के अध्यक्ष नरेन्द्र रौथाण, हरीश गुसाईं, आलमसिंह नेगी आदि थे।