कोयले का तिलक लगाकर कोरोना न होने वाली भ्रामक पोस्ट करने वाला व्यक्ति गिरफ्तार : अंधविश्वास ने खुदवा दी सैकडों लोगों से जमीन


कोयले का तिलक लगाकर कोरोना न होने वाली भ्रामक पोस्ट करने वाला व्यक्ति गिरफ्तार : अंधविश्वास ने खुदवा दी सैकडों लोगों से जमीन
-कुलदीप राणा आज़ाद/केदारखंड एक्सप्रेस 
उत्तराखंड में अंधविश्वास इस कदर हावी है कि यहाँ धर्म के नाम पर कुछ भी कहे और प्रचारित करे तो लोग बिना सोचे समझे ही उसे सच समझ बैठते हैं। ऐसे ही इन दिनों कोरोना वायरस को लेकर तरह-तरह की भ्रामक अफवाहें फैलाई जा रही हैं। 

बीते एक सप्ताह से सोशल मीडिया के जरिए एक अफवाह यह फैलाई जा रही थी कि "घर के दायीं ओर खुदाई करने पर कोयले निकल रहे हैं और उन कोयलों को पीसकर माथे पर तिलक लगाने से कोरोना ठीक होने अथवा कोरोना न होने का दावा किया गया" यह खबर उत्तराखंड के गाँव-गाँवों में इतनी तेजी से वायरल हुई की लोग इस प्रयोग को करने लगे। बहुत सारे लोगों ने दावा किया है कि वास्तव में कोयले निकले हैं। उन लोगों की भीी कमी नहीं थी जिन्होंने इस पर तुरंंत विश्वास कि। सैकड़ों लोगों ने अपने घर के आसपास जमीनेें खोोो दी। लेकिन केदारखंड एक्सप्रेस न्यूज इस बात का खण्डन करता है और लोगों को ऐसे अफवाहों से बचने की सलाह देता है। गांव घरों में अक्सर चूल्हे की राख और कोयलों  को घर के आस-पास, साग-सब्जी के बाग बगीचों में कीटों को खत्म करने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है इसलिए अमूमन हर घर के इर्द-गिर्द खुदाई करने पर कोयले अवश्य निकलेंगे। यह कोई चमत्कार नहीं है और ना ही  कोई दैवीय शक्ति है। इस लिए आप लोग इस प्रकार की खबरो पर विश्वास बिल्कुल ना करेें यह केेेवल अंधविश्वास मात्र  है।

इस भ्रामक खबर को फैलाने वाला शख्स हुआ गिरफ्तार

घर के पास खोदने से मिलने वाले कोयले से कोरोना ठीक होने का दावा करने वाला शक्स बागेश्वर जिले से गिरफ्तार हुआ है। उत्तराखंड के गांव में चौतरफा फैली यह खबर जैसे ही  पुलिस प्रशासन के संज्ञान में आई वैसे ही पुलिस ने इस खबर को फैलाने वाले शख्स की ढूँढ खोज करना आरंभ कर दिया। पुलिस अधीक्षक  बागेश्वर के आदेशानुसार कोरोना वायरस के सम्बन्ध में अफवाह फैलाने वाला अमित मिश्रा पुत्र भुवन चन्द्र मिश्रा उम्र- 26 वर्ष निवासी- जखेड़ा, तह0- गरूड़, बागेश्वर द्वारा सोशल मीडिया फेसबुक के माध्यम से फेसबुक पेज (Beautiful Devbhumi Uttarakhand में) घर के बाहर बांयी ओर जमीन में खोदने पर कोयला मिलने व उस कोयले को पीसकर अपने माथे पर तिलक लगाने से कोरोना वायरस नहीं होने संबंधी भ्रामक पोस्ट की गयी थी। कारोना वायरस के सम्बन्ध में भ्रामक पोस्ट करने/अफवाह फैलान पर  पुलिस उपाधीक्षक बागेश्वर के निर्देशन में डी0आर0 वर्मा प्रभारी निरीक्षक कोतवाली बागेश्वर के नेतृत्व में कोतवाली पुलिस द्वारा अभियुक्त अमित मिश्रा उपरोक्त को गिरफ्तार कर कोतवाली बागेश्वर में मु0अ0सं0- 50/20, धारा- 188 आई0पी0सी0 व 54 आपदा प्रबन्धन अधिनियम के अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत किया गया। गिरफ्तार अभियुक्त को माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है।

भ्रामक खबरों से आप भी बचें : कोरोना से मिलकर लडें 
इस वक्त पूरा देश कोरोना जैसी लाइलाज और प्राणघातक वायरस से जूझ रहा है ऐसे में देश के साथ इस मुश्किल घड़ी में खड़ा होना हम सबका दायित्व है लेकिन कुछ लोग हैं कि वह इस आपातकाल के हालातों में भी अपनी बेतुकी हरकतों से बाज नहीं आ रहे। केदारखंड एक्सप्रेस आप सबसे अपील करता है कि आप किसी भी भ्रामक खबर को सोशल मीडिया पर शेयर ना करें। केवल पुलिस प्रशासन और मीडिया द्वारा दी गई सटीक  जानकारी को ही साझा करें। याद रहे- कोरोना की जंग,  मिलकर लडेंगे हम।
कोयले का तिलक लगाकर कोरोना न होने वाली भ्रामक पोस्ट करने वाला व्यक्ति गिरफ्तार : अंधविश्वास ने खुदवा दी सैकडों लोगों से जमीन कोयले का तिलक लगाकर कोरोना न होने वाली भ्रामक पोस्ट करने वाला व्यक्ति गिरफ्तार : अंधविश्वास ने खुदवा दी सैकडों लोगों से जमीन Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on March 30, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.