Breaking News

Tuesday, 24 March 2020

कोरोना बंदी में सरकार की मदद के लिए बढे सहयोग के हाथ : सामान्य ओबीसी इम्पलाईज एसोसिएशन ने दी एक लाख की धनराशि

सहयोग राशि का का चेक जिलाधिकारी को भेंट करते संगठन के पदाधिकारी

कोरोना बंदी में सरकार की मदद के लिए बढे सहयोग के हाथ : सामान्य ओबीसी इम्पलाईज एसोसिएशन ने दी एक लाख की धनराशि 
-भूपेन्द्र भण्डारी/केदारखंड एक्सप्रेस न्यूज

रुद्रप्रयाग। एक तरफ कोरोना के प्रकोप पर विराम लगाने के लिए देशभर में सरकारी मशीनरी पूरी तरह से झोंकी गई है तो दूसरी तरफ देश के कई राज्यों में  लॉक डाउन के चलते व्यापार, उद्योग-धंधे, यातायात सभी प्रकार के व्यवसाय पूरी तरह से चौपट है देश की आर्थिक स्थिति भी मंदी के दौर से गुजर रही है। वही समर्थवान लोग अब कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ी जा रही इस लड़ाई में आर्थिक रूप से भी सरकार की मदद कर रहे हैं। रूद्रप्रयाग में इसका ऐसा ही नायाब उदाहरण आज देखने को मिला है।

सामान्य-ओबीसी इम्पलाईज एसोसिएशन जनपद रूद्रप्रयाग के द्वारा कोरोना जैंसी महामारी के रोकथाम के लिए प्रारम्भिक तौर एक लाख रुपये की धनराशि का चैक जिला अधिकारी मंगेश घिल्ङियाल को सौंपा।  अपने संगठन के जमा कोष से यह राशि  दी गयी। जबकि संगठन द्वारा अभी तक कोरोना जैंसी महामारी के लिए अपने संगठन से जुड़े सदस्यों से कोई भी धनराशि नहीं ली गई है। हाँ अब आगामी दिनो अपने सदस्यों से खुलकर जनहित में धनराशि देने की अपील की गई है।

मदद की राशि को भेंट करने वालों में मुख्यालय में स्थित ऐसोसिएशन के जनपदीय महामंत्री सुरेन्द्र सिंह मिंगवाल, कोषाध्यक्ष डी. सी. एस. बिष्ट व जनपदीय संयोजक मंडल के सह संयोजक आर. एस. रावत मौजूद थे। संगठन के अन्य पदाधिकारी और सदस्य  लॉक डाऊन का पूर्ण पालन करते हुए अपने-अपने घरों में बने हैं। संगठन द्वारा  सोशियल मीडिया से संपर्क बना कर लोगों को लगातार ऐतिहात बरतने की अपील की जा रही है और  इस महामारी से बचने का एकमात्र उपाय सावधानी ही है।

सामान्य ओबीसी कर्मचारियों की यह पहल वास्तव में देशहित में महत्वपूर्ण है। देश की आर्थिक हालात और कोरोना के चलते मंदी के इस दौर सरकारों की मदद के लिए इसी तरह बहुत सारे संगठनों, संस्थानों और कम्पनियों के हाथ बढ रहे हैं। राष्ट्र के प्रति इसी भावना के कारण आज यह देश विभिन्न जाति धर्मों और समुदायों के बावजूद भी एक है अखंड है।