रुद्रप्रयाग जनपद को किया गया 5 जोन व 12 सेक्टरों में विभाजित


रुद्रप्रयाग जनपद को  किया गया 5 जोन व 12 सेक्टरों में विभाजित 
-केदारखंड एक्सप्रेस न्यूज 
रुद्रप्रयाग। राज्य सरकार द्वारा राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए आगामी 31 मार्च तक राज्य को लॉक डाउन करने के आदेश के अनुक्रम में आगामी 21 दिनों तक देश को लॉक डाउन करने का आदेश पारित किया है|  

जिसके अन्तर्गत आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी सेवाओं को बन्द करने के सम्बन्ध में पारित आदेश के क्रम मे जनपद क्षेत्र को नवनीत  सिंह, पुलिस अधीक्षक रुद्रप्रयाग द्वारा 5 जोन, 12 सेक्टर, 20 पिकेट, 28 गस्त पार्टियां व 200 से अधिक पुलिस बल को जनपद में लॉक टाउन की स्थिति पर नजर रखने हेतु व कानून व्यवस्था बनाए रखने हेतु गठित किया गया है|

समस्त थाना प्रभारियों को उक्त आदेशों का अनुपालन करने हेतु व लॉकडाउन को सफल बनाने हेतु पारित निर्देशों के तहत आगामी 21 दिनों तक यह व्यवस्था बनाए रखने हेतु आदेश पारित किए गए हैं।

जिला प्रशासन भी मुस्तैद है कोरोना से निपटने के लिए 

कोरोना वायरस संक्रमण की वर्तमान स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा इसे महामारी घोषित कर दिया गया है इसी परिपेक्ष्य में जिला मजिस्ट्रेट मंगेश घिल्डियाल संभावित कोरोना वायरस से निपटने हेतु कोरोना रिस्पांस टीम का गठन कर अधिकारियों को दायित्वसौंपे गए है। जिला मजिस्ट्रेट ने  समस्त उप जिलाधिकारी को अपने क्षेत्रान्तर्गत संभावित कोरोना वायरस संक्रमण के स्थानीय नागरिकों व विदेशियों का चिन्हीकरण करने, झूठीअफवाह फैलाने वाले व्यक्तियों पर कार्रवाई करने, जनपद में क्वारन्टीन व आइसोलेशन में रखे व्यक्तियों की निगरानी व दूरभाष पर सम्पर्क बनाए रखने के निर्देश दिए है।

इसके साथ ही मुख्य विकास अधिकारी एस एस चौहान को भारत सरकार द्वारा संभावित कोरोना संक्रमण के मरीजों की जांच हेतु जारी एडवाइजरी का परिपालन कराने, जिला पूर्ति अधिकारी को आवश्यक वस्तुओं/ दवाइयों की उपलब्धता व ओवर रेटिंग की रोकथाम सुनिश्चित करने, प्रबंधक स्वजल को साफ सफाई व सैनिटाईजिंग की व्यवस्था करने, जिला पर्यटन अधिकारी को समन्वय स्थापित करने, जिला पंचायत राज अधिकारी को बाहर से आने वाले व्यक्तियों की सूचना प्रतिदिन उपलब्ध कराने, जिला अर्थ संख्याधिकारी को प्रतिदिन अभिलेखीकरण कार्य करने के निर्देश दिए है। 

जिला मजिस्ट्रेट ने सभी अधिकारियों/ कर्मचारियों को निर्गत दायित्वों का समयान्तर्गत निर्वहन करने के निर्देश दिए है। किसी भी अधिकारी/ कर्मचारी द्वारा आदेशों का उल्लंघन करने पर आपदा प्रबन्धन अधिनियम व कर्मचारी आचरण नियमावली की सुसंगत धाराओं के तहत कार्रवाई की जाएगी।
रुद्रप्रयाग जनपद को किया गया 5 जोन व 12 सेक्टरों में विभाजित रुद्रप्रयाग जनपद को  किया गया 5 जोन व 12 सेक्टरों में विभाजित Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on March 25, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.