करोड़ों रूपये खर्च फिर भी पूरा नहीं हुआ स्टेडियम का सपना, ब्लैक लिस्ट हो चुकी उत्तर प्रदेश निर्माण निगम की एक और करतूत का सच

करोड़ों रूपये खर्च फिर भी पूरा नहीं हुआ स्टेडियम का सपना, ब्लैक लिस्ट हो चुकी उत्तर प्रदेश निर्माण निगम की एक और करतूत का सच

-नीरज कण्डारी/ केदारखंड एक्सप्रेस 

पोखरी। उत्तराखंड के पहाड़ी जिलों में निर्माण कार्यों में भ्रष्टाचार और अनिमिताओ के कारण कई बार ब्लैक लिस्ट हो चुकी उत्तर प्रदेश निर्माण निगम का एक और घिन्नौना सच सामने आया है। ब्लाक मुख्यालय पोखरी में करीब तीन करोड़ की लागत से बनाया जाने वाले स्टेडियम में भी बड़े भ्रष्टाचार की बू आ रही हैं।


आपको को बताते चले कि चमोली जिले के पोखरी ब्लॉक मुख्यालय में वर्ष  2008-09  में शासन द्वारा पोखरी में मिनी स्टेडियम के लिए 3 करोड़ का शासनादेश  जारी किया गया था। इस स्टेडियम के निर्माण का जिम्मा भ्रष्टाचार की पराकाष्ठा की सबसे ऊंचाई पर रहने वाली संस्था उत्तर प्रदेश निर्माण निगम  को दिया गया। कार्यदायी  संस्था निर्माण निगम  द्वारा 10  साल बीत जाने के बाद भी  स्टेडियम का कार्य पूरा नही हो पाया  है। स्थिति यह है कि  पिछले लम्बे समय से यह कार्य ठप्प पङा है। अधर में छोड़े गये इस स्टेडियम की चार दिवारी न होने से पांच वर्ष पूर्व इसका एक हिस्से में भूस्खलन हो गया था जिस कारण इसके नीचे बसे आवासीय भवन भी खतरे की जद्द में आ गये हैं ।

बरसों से स्टेडियम की आस लगाये पोखरी की जनता स्टेडियम की इस दुर्दशा के लिए जितना जिम्मेदार निर्माण निगम को मानती है उससे ज्यादा यहाँ के जनप्रतिनिधियों को। इस मामले में जनप्रतिनिधियों की उदासीनता और चुप्पी के कारण न केवल जनता के पैसों की बर्बादी की जा रही है बल्कि विकास कार्यों में को भी ग्रहण लग रहा है। यहां के स्थानीय लोगो का कहना है कि इस स्टेडियम पे घटिया सामग्री लगाई गई है। जिसको लेकर प्रसासन  को कई बार अवगत करवाया गया है। निर्माण निगम और निगम के जेई महादेब बहुगुणा  की बड़ी लापरवाही के कारण  ये कार्य पूरा नही हो पाया है।इस मामले में कई बार जिला प्रशासन ओर संबंधित विभाग को सूचित कर दिया गया है फिर भी कोई सुध लेने वाला नहीं है।
करोड़ों रूपये खर्च फिर भी पूरा नहीं हुआ स्टेडियम का सपना, ब्लैक लिस्ट हो चुकी उत्तर प्रदेश निर्माण निगम की एक और करतूत का सच करोड़ों रूपये खर्च फिर भी पूरा नहीं हुआ स्टेडियम का सपना, ब्लैक लिस्ट हो चुकी उत्तर प्रदेश निर्माण निगम की एक और करतूत का सच Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on February 14, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.