Breaking News

Monday, 10 February 2020

अगर आप मदद करेंगे तो बच सकती है एक जिंदगी, सिलेंडर फटने से जल गया है अंदीप का शरीर, उपचार के लिए नहीं थे पैसे तो लौट आया घर

अगर आप मदद करेंगे तो बच सकती है एक जिंदगी, सिलेंडर फटने से जल गया है अंदीप का शरीर, उपचार के लिए नहीं थे पैसे तो लौट आया घर 


-मोहित ङिमरी/केदारखंड एक्सप्रेस 
रुद्रप्रयाग। तस्वीर में दिखाई दे रहे इस व्यक्ति का नाम अंदीप नेगी है। 35 वर्षीय अंदीप मूल रूप से दशज्यूला पट्टी के छिनका गांव का निवासी है। पिछले माह 20 जनवरी को सिलेंडर फटने से अंदीप का पूरा शरीर जल गया था। आज स्थिति यह है कि अंदीप के पास अपने उपचार के लिए पैसे तक नहीं है। वह एक-एक रुपये के लिए मोहताज है। 

अंदीप ने कर्जा लेकर कोरोनेशन हॉस्पिटल देहरादून में अपना उपचार कराया। जब उनके पास पैसे नहीं बचे तो वह वापस रुद्रप्रयाग लौट आए। अब उनकी हालत दिन-प्रतिदिन खराब होती जा रही है। पैसे के अभाव में वह अपना उपचार नहीं करवा पा रहे हैं। कहीं से भी अंदीप को उपचार के लिए सहायता नहीं मिली है।

अंदीप पर इससे पहले भी दुःखों का पहाड़ टूट चुका है। कुछ समय पूर्व ही अंदीप की पत्नी की असमायिक मौत हो गई थी। अंदीप के घर में बूढ़े मां-बाप हैं। अंदीप धियाड़ी-मजदूरी करके अपना गुजारा करता था। अब अंदीप की स्थिति इतनी खराब हो गई है कि वह मजदूरी भी नहीं कर सकते हैं। अब जिम्मेदारी समाज के कंधों पर है। हम सभी मिलकर अंदीप की आर्थिक मदद करके उनका देहरादून में उपचार करवा सकते हैं। 

सामाजिक कार्यकर्ता देवेंद्र चमोली का कहना है कि हम सभी को इस दुःख की घड़ी में अंदीप की आर्थिक मदद के लिए आगे आना चाहिए। हम सभी के प्रयासों से एक व्यक्ति को नया जीवन मिल सकता है। उपचार के अभाव में दिन-प्रतिदिन अंदीप का शरीर जवाब दे रहा है। उसके शरीर का घाव तेजी से बढ़ रहा है। 

अगर आप अंदीप की आर्थिक मदद करना चाहते हैं तो आप उनके अकाउंट नंबर पर सहायता राशि भेज सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए आप देवेंद्र चमोली के मोबाइल नंबर 73008 38626 और मेरे नंबर (मोहित डिमरी) 9897248163 पर सम्पर्क कर सकते हैं। 

अकाउंट होल्डर: अंदीप सिंह
बैंक: सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
शाखा-गौचर
अकाउंट नंबर: 3750550980
IFSC CODE: CBINO284028