मुख्य विकास अधिकारी ने की जन सुनवाई, 16 शिकायतें हुई दर्ज

मुख्य विकास अधिकारी ने की जन सुनवाई, 16 शिकायतें हुई दर्ज

-महावीर राणा/केदारखण्ड एक्सप्रेस 

चमोली। जन सुनवाई दिवस पर सोमवार को मुख्य विकास अधिकारी हंसादत्त पांडे ने फरियादियों की समस्याएं सुनी। जनपद के विभिन्न क्षेत्रों से पहुॅचे फरियादियों ने सड़क, शिक्षा, क्षतिग्रस्त भूमि एवं भवन का मुआवजा, आर्थिक सहायता, विकलांग पेंशन, पारिवारिक पेंशन, विस्थापित परिवारों के भवन निर्माण हेतु दूसरी किस्त का भुगतान करने आदि से संबधित 16 शिकायतें जनता दरवार में रखी। मुख्य विकास अधिकारी ने अधिकांश शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण किया और शेष शिकायतों के लिए संबधित विभागों के अधिकारियों निर्देशित किया। इस दौरान जिला शिकायत प्रकोष्ठ, बहुउद्देशीय शिविर, सीएम हेल्प लाइन पर दर्ज शिकायतों की समीक्षा भी की गई। 

जन सुनवाई में मुख्य विकास अधिकारी ने विद्युत विभाग को जिले में 66केवी विद्युत लाईन का विकल्प रखने हेतु कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कहा कि जिले में हर रोज हजारों तीर्थयात्रियों व पर्यटकों की आवाजाही होती है और आए दिन 66 केवी विद्युत लाईन खराब होने से पूरे क्षेत्र में विद्युत की समस्या रहती है, जिसके लिए दूसरी लाईन से विद्युत आपूर्ति के लिए विकल्प रखना जरूरी है।  

जन सुनवाई में पीएमजीएसवाई की मोलागाड़-मटई मोटर मार्ग पर सुरक्षा दीवार, पैचवर्क, डामरीकरण, नाली निर्माण, भूमि का मुआवजा न मिलने की शिकायत पर मुख्य विकास अधिकारी ने ईई पीएमजीएसवाई को तत्काल आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। गडोरा निवासी किशन चन्द्र सती ने एनएच चैडीकरण से क्षतिग्रस्त आवास का मुआवजा न मिलने की शिकायत पर एसडीएम को जाॅच करने को कहा गया। रा.उ.मा. विद्यालय विजयसैंण में शिक्षकों न होने से बच्चों की पढाई में हो रही समस्या और रा.जू.हाईस्कूल भकुण्डा तथा प्रा.वि. क्यार्की में विद्यालय भवन क्षतिग्रस्त होने की शिकायत पर जिला शिक्षा अधिकारी को क्षतिग्रस्त भवनों की मरम्मत हेतु प्रस्ताव तैयार करने को कहा।

जन सुनवाई में मथरपाल निवासी विशोदा देवी ने विगत वर्षात में मकान क्षतिग्रस्त होने पर मुआवजा न मिलने की शिकायत पर मुख्य विकास अधिकारी ने एसडीएम को आज ही प्रभावित परिवार को टैंट दिलाने तथा मुआवजा हेतु आवश्यक कार्यवाही करने को कहा। वही बिजार गांव निवासी देवकी देवी ने सहकारिता से लिए कृषि ऋण माफ करने की गुहार लगाई। बताया कि उनके पति ने सहकारिता से कृषि ऋण लिया था और उनकी मृत्यु के बाद परिवार की आर्थिक स्थिति बहुत खराब होने के कारण वे एक लाख का ऋण भुगतान करने में असमर्थ है। 
नारायणबगड ब्लाक के ग्राम भ्याडी, त्यूला व छपाली के विस्थापित परिवारों ने भवन निर्माण हेतु दूसरी किस्त न मिलने की शिकायत की। जिस पर आपदा प्रबन्धन अधिकारी को कार्यवाही करने को कहा गया। देवलीबगड निवासी हरकी देवी तथा ढुंगल्वाणी के मदन प्रसाद पंत ने पीएम आवास की गुहार लगाई। वही पपडियाण निवासियों ने पीएम आवास के तहत दूसरी व तीसरी किस्त न मिलने की शिकायत पर ईओ नगर पालिका को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए। क्षेत्र पंचायत सदस्य देवेन्द्र सिंह रावत ने थराली तहसील में आधार कार्ड सेंटर खोलने की बात कही।
जन सुनवाई में एसडीएम बुशरा अंसारी, पीडी प्रकाश रावत, डीडीओ एसके राॅय, सीएमओ डा0 केके सिंह, टीओ दीपक चन्द्र भट्ट सहित सड़क, शिक्षा, पेयजल, विद्युत, कृषि, उद्यान आदि सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। 
मुख्य विकास अधिकारी ने की जन सुनवाई, 16 शिकायतें हुई दर्ज मुख्य विकास अधिकारी ने की जन सुनवाई, 16 शिकायतें हुई दर्ज Reviewed by केदारखण्ड एक्सप्रेस on February 10, 2020 Rating: 5
Powered by Blogger.